गौ ने किया कष्टों का निवारण

Oct 09 2015 11:10 PM
गौ ने किया कष्टों का निवारण

गाय को भारतीय संस्कृति मे प्रधान माना गया हे। गाय सदा से भारतीय मानव जीवन की माता रही है।

इसकी पूजा, आराधना के लिये देवता भी देव लोक से इस प्रथ्वी लोक मे आते हे धार्मिक ग्रंथो मे बताया गया हे की 33 करोड़ देवता भी इस गौ माता मे समाहित है ।

प्राचीन काल में हमारे देश में सर्वाधिक धन संपदा के स्तर का मापक गौ माता ही थी। गाय को भी देवता के समान माना गया है। कहा गया हे कि गाय की सेवा करने से वह तुम्हारे जीवन को सुखद बनाती है इसे शांति का प्रतीक भी माना गया है । यह बहुत सरल स्वभाव की होती है भगवान श्रीकृष्ण को भी गाय बहुत पसंद थी।

यह हमारे जीवन का बहुत बड़ा सहारा होती हे और इस तरह हमारी सहायता करती हे – 

1. गौ माता के दूध को पीने से हमारे अंदर अत्याधिक शक्ति तथा स्फूर्ति आती है। और हमारा शरीर रोगों से मुक्त होता है। 

2. आप जिस भी स्थान पर भवन या घर का नव निर्माण कर रहे हे तो यदि उस जगह पर गाय के चरण पड़ जाते हे तो वहां वास्तु दोषों का निवारण हो जाता है। 

3. यदि आप गौ के मूत्र को नित्य नियम से ग्रहण करते हे तो आपको कभी भी रोगों का सामना नहीं करना पड़ेगा और यदि कोई रोग हे भी तो उससे छुटकारा मिल जायेगा। गौ के चरणों की धूल यदि आप अपने सिर मे लगा ले तो पापो से मुक्ति तथा जीवन मे सफलता अवश्य मिलेगी ।

4. यात्रा के वक्त यदि आपको गाय के दर्शन हो गये तो आपकी यात्रा मंगलमय होगी किसी भी तरह की परेशानी नही होगी और यदि दिक्कत आ भी गई तो माता सहायक होगी गाय की पूजा से आपके जीवन मे लगे दोष भी दूर हो जाते हे और आपका परिवार सुखद रहता है।

5. पुराणों में बताया गया है कि जब भगवान श्रीकृष्ण पूतना के दुग्ध पान को देखकर डर गये थे तो माँ यशोदा ने गौ माता की पूंछ से उनकी नजर उतारी थी जिससे भय दूर हो गया था यदि आपको संतान की प्राप्ति करनी हे या उसके सफल जीवन की कामना चाहते हे तो गौ माता की सेवा अवश्य करें इसकी सेवा करने से म्रत्त्यु का भी भय नहीं लगता। 

6. गाय के घी का सेवन करने से आपका शरीर हाष्ट पुष्ट रहता है व व्यक्ति दीर्घायु को प्राप्त करता है। 

7. गाय भारत की कृषि का मूलभूत आधार मानी गई है इसके गोबर का उपयोग बंजर भूमी मे भी करने से वह उपजाऊ बन जाती हे और उस भूमी से हम फसल उगाकर अपना जीवन यापन करते है। 

8. गाय के दूध में कैरोटीन नामक एक पदार्थ पाया जाता हे जिसकी वजह से और भी शक्ति मिलती है इसे गर्म करने से इसके पोषक तत्व नष्ट नही होते है।

यह माता हमारे जीवन मे बहुत ही उपयोगी हे यह हमारा सबसे बड़ा धन हे इसे बचाना चाहिए गौ की हो रही ह्त्या को रोकें यह एक बहुत बड़ा पाप हे इससे आप कभी मुक्त नही हो पाएगे यदि हम इस जीवन दायनी माँ को ही जीवन से दूर कर रहे हे तो हमारी रक्षा कौन करेगा क्योकि माँ तो माँ होती हे जो अपने बच्चों को हमेशा खुश देखना चाहती है हमें इस माँ की रक्षा के लिये सतत प्रयास करना चाहिए।