सर्राफा हड़ताल, सरकार को भुगतना होगा इसका नुकसान
सर्राफा हड़ताल, सरकार को भुगतना होगा इसका नुकसान
Share:

tyle="text-align:justify">बारांबकी : सर्राफा कारोबारियों की हड़ताल का असर व्यापक होते ही जा रहा है. देखने को मिल रहा है एक्साइज ड्यूटी को बढ़ाए जाने का विरोध 24 वें दिन भी जारी रहा है. जानकारी में यह भी बता दे कि यहाँ के घंटाघर स्थित सर्राफा व्यापारियों के द्वारा सरकार के विरोध में अपनी दुकानों पर काला झण्डा लगाया गया.

इस मामले में जानकारी देते हुए सर्राफा एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद सोनी ने यह भी कहा है कि जब से केन्द्र में भाजपा सरकार आई है तब से यूरिया पर टैक्स लगाकर किसानों की कमर तोड़ दी है. इसके साथ ही उन्होंने व्यापारियों को सम्बोधित करते हुए यह भी बताया है कि भाजपा ने व्यापारियों के विश्वास के साथ ही वोट भी खो दिया है.

और आने वाले विधानसभा चुनाव 2017 में इसका नुकसन सरकार को उठाना होगा. गौरतलब है कि सर्राफा कारोबारियों की यह हड़ताल काफी लम्बे समय से चल रही है और रुकने का नाम ही नहीं ले रही है. इसके साथ ही यह भी बता दे कि इस हड़ताल के कारण जहाँ कारोबारियों को नुकसान हो रहा है तो वही सरकार भी इससे दूर नहीं है.

रिलेटेड टॉपिक्स