Share:
दो माह बाद ऑटो वाले ने ढूंढ ही निकाला हार के मालिक को और लौटा दिया
दो माह बाद ऑटो वाले ने ढूंढ ही निकाला हार के मालिक को और लौटा दिया

मुंबई : बड़े-बुजुर्ग अक्सर कहते है कि दुनिया में अच्छाई अभी जिंदा है। इस बात को सकारात्मक किया है मुंबई के इस ऑटो चालक ने। यह दो माह से एक दंपति को ढूंढ रहा था। एक दिन उसे वो दंपति मिल गए जिसे वो ढूंढ रहा था। दरअसल इस दंपति का लाखों का हार खो गया था। जोड़े ने तो हार मिलने की उम्मीद भी खो दी थी। ऑटो चालक अरुण शिंदे न सिर्फ बुजुर्ग दंपति को ढूंढ निकाला बल्कि उनका 1 लाख मूल्य का हार भी लौटा दिया।

17 नवंबर को 67 साल के हंसराज खत्री अपनी 62 साल की पत्नी हीरामती के साथ घाटकोपर स्टेशन के लिए गए। वहां उन्होंने शिंदे को किराया दिया और चले गए।

उन्हें बाद में पता चला कि उनका हार ऑटो में ही छूट गया है। उम्र की वजह से वे ज्यादा प्रयास नहीं कर पाए और उम्मीद छोड़ कर बैठ गए। शिंदे रोज इस जोड़े को घाटकोपर बाजार और स्टेशन के बीच ढूंढता था, तभी एक दिन अचानक उसकी नजर हीरामती पर पड़ी और उसने उन्हें पहचान लिया।

लेकिन वो शिंदे को नहीं पहचान पा रही थी। शिंदे उन्हें अपने साथ घर ले गया और उन्हें उनका नेकलेस वापस कर दिया। इसके एवज में शिंदे ने कोई तोहफा भी कबूल नहीं किया।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -