बोरिंग में पानी नहीं आने पर बच्चे की बलि देने की कोशिश
बोरिंग में पानी नहीं आने पर बच्चे की बलि देने की कोशिश
Share:

अररिया: बिहार के अररिया में अन्धविश्वास का एक अनोखा मामला सामने आया है जहां बोरिंग में पानी नहीं आने पर एक 5 साल के बच्चे की बलि देने का असफल प्रयास किया गया. अफसोसजनक बात तो यह है कि बलि की यह कोशिश उस स्कूल में बोरिंग के लिए की जा रही थी, जहाँ शिक्षा के जरिये अन्धविश्वास को दूर करने का सबक सिखाया जाता है. बलि देने की कोशिश करने वाले 6 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया|

पीड़ित बालक के परिजनों ने आरोप लगाया कि आर.एस ओपी के हयातपुर गांव के कुछ लोगों ने उनके 5 वर्षीय बच्चे की जबरन बलि देने का प्रयास किया. मिली जानकारी के अनुसार गांव के प्राइमरी स्कूल में बोरिंग करने का प्रयास पिछले तीन दिनों से चल रहा था लेकिन बोरिंग से पानी नहीं आ रहा था.

इसके बाद गांव के ही कुछ लोगों ने बच्चे को पकड़ कर जबरन उसकी बलि देने की कोशिश की. बच्चे के हाथ बांध कर गला काटने का असफल प्रयास किया गया. लेकिन बच्चे की बलि देने से पहले ही उसके परिजनोंको खबर लग गई और उन्होंने पुलिस की मदद से उसे बचा लिया. घायल बच्चे का अररिया सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है, अररिया आरएओपी के प्रभारी प्रभाकर भारती ने बताया कि इस मामले में 6 लोगो को गिरफ्तार किया गया है|

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -