जेल में केवल 3 बार खाया आम, 6 बार खाई ये चीज...": अरविंद केजरीवाल के वकील ने ED के इल्जामों का दिया जवाब
जेल में केवल 3 बार खाया आम, 6 बार खाई ये चीज...
Share:

नई दिल्ली: दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party)के नेता अरविंद केजरीवाल शराब घोटाले केस में जेल में बंद है. इस दौरान जेल अथॉरिटी की तरफ से अदालत में बोला गया है कि केजरीवाल तिहाड़ जेल में सलाखों के पीछे रहते हुए आम खाते हैं. साथ ही वो कई बार मिठाई भी खा गए है.  जेल ऑथारिटी ने इस बारें में बोला है कि जब केजरीवाल को जेल में लाया गया था तो वह पहले इंसुलिन ले रहे थे लेकिन बाद में खुद उन्होंने बंद कर दिया. जेल अथॉरिटी ने इस बारें में बोला है कि केजरीवाल को घर से बना खाना देने के लिए लागू शर्तों में ऐसी बात नहीं कही गयी है कि वो फल या कुछ भी खायें.  खबरों का कहना है कि वह डाइट फॉलो नहीं कर रहे हैं, हमें एम्स से भी राय मिली है, जिसके अनुसार उन्हें आम से परहेज करना चाहिए. जेल अथॉरिटी ने कहा कि जेल मैनुअल की माने तो घर का बना खाना कैदी को नहीं दिया जा सकता है. केजरीवाल की तरफ से अब इस दावे का जवाब भी दे डाला है. 

केजरीवाल के वकील ने ED के दावे को बताया गलत: अदालत  को सौंपे गए एक विस्तृत बयान में केजरीवाल ने उन्हें अपने डॉक्टर के साथ वीडियो परामर्श की अनुमति देने के विरुद्ध ED के प्रत्येक तर्क का खंडन भी कर दिया है.  बयान में दावा किया गया कि केजरीवाल को "सावधानीपूर्वक डॉक्टरी जांच के अंतर्गत" 1 फरवरी से इंसुलिन इंजेक्शन बंद करने की सलाह तक दे दी गई थी.  केजरीवाल ने इस बारें में बोला है कि तब उन्हें "दैनिक चिकित्सा और आहार" का पालन करने के लिए कहा गया था जिसमें नियमित व्यायाम भी शामिल था. हालांकि गिरफ्तारी के बाद मुख्यमंत्री ने कहा था कि वह उस नियमों का पालन करने में सक्षम नहीं रह गए हैं. केजरीवाल के वकील ने अदालत को बताया कि "हालांकि, गिरफ्तारी के उपरांत से आज तक, आवेदक को उसके शुगर के स्तर को नियंत्रित करने के लिए इंसुलिन नहीं दिया गया है.

इस बीच  AAP ने दिल्ली के सीएम के ''कत्ल करने की साजिश" का दावा किया है. आप की तरफ से दावा किया गया है कि केजरीवाल को  2 बार इंसुलिन की आवश्यकता होती है. गुरुवार शाम को केजरीवाल की पार्टी सहयोगी, आतिशी ने इल्जाम लगाया कि AAP नेता को "बार-बार अनुरोध के बावजूद" गंभीर मधुमेह वाले रोगी के लिए आवश्यक खुराक प्रदान नहीं की जा रही है. आप ने इंसुलिन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश के लिए अदालत में याचिका दर्ज कर दी है. 

आतिशी ने की ईडी की आलोचना: खबरों का कहना है कि आतिशी ने इस सप्ताह एक कड़े बयान में, अदालत को यह बताने के लिए ED की आलोचना की कि केजरीवाल "नियमित रूप से ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन कर रहे हैं जो किसी भी मधुमेह रोगी के लिए मंजूरी नही है". उन्होंने इस बारें में आगे बोला है कि, "यह पूरी तरह से झूठ है...केजरीवाल जी को डॉक्टर द्वारा बताए गए स्वीटनर के साथ चाय और मिठाई खाने की मंजूरी है." आज उन्होंने वह बात दोहराई- मिठाइयां शुगर-फ्री हैं और केवल 6 बार उपलब्ध कराई गईं है. 

इन 5 सहकारी बैंको पर RBI ने ठोका तगड़ा जुर्माना

मैच जीतने के बाद भी हार्दिक पंड्या को क्यों लगा 12 लाख का फटका जानिए

केंद्र सरकार ने की घोषणा ,जानिए कौन है अगले नेवी चीफ

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -