मोदीनॉमिक्स फेल, भाजपा त्रिमूर्ति के चंगुल में फंसकर रह गई -अरुण शौरी

May 01 2015 11:07 PM
मोदीनॉमिक्स फेल, भाजपा त्रिमूर्ति के चंगुल में फंसकर रह गई -अरुण शौरी

नई दिल्ली : भाजपा पार्टी के वरिष्ठ नेता और अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है। शौरी ने मोदी सरकार को अड़े हाथो लेते हुए कहा कि भाजपा को मोदी,शाह और जेटली की त्रिमूर्ति चला रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए शौरी ने कहा कि देश के आर्थिक हालात को संभालने में मोदीनॉमिक्स फेल होती दिखाई दे रही है। इसके अलावा उन्होंने लगातार अल्पसंख्यकों पर हो रहे हमलों पर प्रधानमंत्री द्वारा आंखें बंद कर लेने का भी आरोप लगाया है।

अरुण शौरी ने ये बातें सूत्रों से बातचीत में कही हैं। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में सूचना प्रसारण मंत्री और विनिवेश मंत्री रहे शौरी आर्थिक सुधारों के दिशा में प्रमुखता से आवाज उठाते रहे हैं। वाजपेयी सरकार में पार्टी के कद्दावर नेताओं में गिने जाने वाले शौरी मोदी सरकार में फिलहाल हाशिए पर हैं। शौरी मोदी सरकार ने आर्थिक विकास की दर के 8 फीसदी और बहुत जल्द इसके 10 फीसदी के करीब होने के दावे पर भी बरसे। उन्होंने कहा कि यह सरकार के बड़बोलेपन को दिखाता है।

उन्होंने कहा कि ऐसे दावे कुछ देर के लिए हेडलाइंस तो बन सकते हैं, लेकिन हकीकत में ऐसा संभव नहीं है। उन्होंने दावा किया कि मोदीनॉमिक्स दिशाहीन तरीके से काम कर रही है। शौरी ने कहा कि सरकार के पास दावे हैं लेकिन आर्थिक योजनाओं का कोई खाका नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसा दिखाई देता है कि सरकार सिर्फ हेडलाइंस में बने रहने के लिए काम कर रही है ताकि उसकी योजनाओं को मीडिया में जगह मिलती रहे। मोदी सरकार की उपलब्धियों की सूची को खारिज करते हुए शौरी ने कहा कि महंगाई, फिस्कल डेफिसिट, एफडीआई, कोल ब्लॉक और स्पेक्ट्रम नीलामी जैसे मुद्दों पर शौरी ने कहा कि इन चीजों के नतीजे कुछ ऐसे ही आने थे।

इसमें सरकार ने कुछ नहीं किया है। मसलन- तेल और गैस की कीमतों में कमी का मसला अंतरराष्ट्रीय मामला है। इसमें सरकार ने कुछ नहीं किया।शौरी से जब अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के दिल्ली दौरे के दौरान पहने गए मोदी के महंगे सूट को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ''मैं खुद नहीं समझ पा रहा हूं कि उन्हें ऐसा करने और दिखाने की क्या जरूरत थी।'' शौरी ने आरोप लगाया कि आप लाखों का सूट पहन कर गांधीजी का नाम नहीं ले सकते।