Share:
MP में CM पद की अटकलों के बीच शिवराज सिंह चौहान का आया बड़ा बयान, बोले-  'मैं मुख्यमंत्री का दावेदार...'
MP में CM पद की अटकलों के बीच शिवराज सिंह चौहान का आया बड़ा बयान, बोले- 'मैं मुख्यमंत्री का दावेदार...'

भोपाल: मध्य प्रदेश में बीजेपी का सीएम कौन होगा? अटकलों के बीच निवर्तमान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि ना तो पहले कभी मुख्यमंत्री पद के दावेदार थे और ना आज हैं। उन्होंने कहा कि वह पार्टी के कार्यकर्ता हैं तथा पार्टी जो भी काम देगी उसे पूरी क्षमता और ईमानदारी से करेंगे। हाल ही में एक वीडियो संदेश साझा कर शिवराज सिंह चौहान ने कहा, 'मैं मुख्यमंत्री का दावेदार ना तो पहले कभी रहा और ना आज हूं। मैं एक कार्यकर्ता के नाते सदैव, भारतीय जनता पार्टी मुझे जो भी काम देगी उसे समर्पित भाव से अपनी संपूर्ण शक्ति, क्षमता, और प्रमाणिकता, ईमानदारी से सदैव करता रहूंगा। मोदी जी हमारे नेता हैं और उनके साथ काम करने में हमने सदैव गर्व और आनंद का अनुभव किया है। प्रदेश की जनता का एक बार फिर से आभार।'

शिवराज सिंह चौहान ने यह बात ऐसे वक़्त पर कही है जब मध्य प्रदेश में सरकार गठन की प्रक्रिया तथा मुख्यमंत्री के चुनाव को लेकर हलचल तेज है। बीजेपी ने इस बार शिवराज सिंह चौहान को मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित नहीं किया था। पार्टी ने तीन मंत्रियों सहित सात सांसदों तथा दिग्गज नेताओं को मैदान में उतारा था। तब से अटकलें लगाईं जा रही हैं कि बीजेपी इस बार राज्य में नेतृत्व में परिवर्तन कर सकती है। हालांकि, बीजेपी की तरफ से अभी स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है।

मध्य प्रदेश में बीजेपी ने शिवराज सिंह चौहान की अगुआई में प्रचंड बहुमत हासिल किया है। बीजेपी ने 230 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में 163 पर जीत हासिल की है। कांग्रेस को सिर्फ 66 सीटों से संतोष करना पड़ा है। ऐसे में शिवराज सिंह चौहान को एक बार फिर सीएम बनाया जा सकता है। राजनीतिक विश्लेषक एवं बीजेपी के सूत्र बताते हैं कि चौहान रेस में सबसे आगे हैं। जिस प्रकार का प्रचंड बहुमत पार्टी को मिला है उससे संकेत प्राप्त हुआ है कि शिवराज के खिलाफ जनता में किसी प्रकार की नाराजगी नहीं है, बल्कि 'मामा' की लोकप्रियता कायम है। ऐसे में उन्हें दरकिनार नहीं किया जा सकता है।

'मेरे पिता को किसी गैर-भाजपा राज्य की जेल में भेज दो..', सुप्रीम कोर्ट से गैंगस्टर मुख़्तार अंसारी के बेटे उमर की मांग

मल्लिकार्जुन खड़गे ने खुद दिया निमंत्रण, लेकिन साथियों ने कर दिया इंकार ! आखिरकार कांग्रेस को स्थगित करना पड़ी INDIA की बैठक

अमेरिका को ही अपनी कंपनी 'हिंडनबर्ग' पर भरोसा नहीं ! अडानी ग्रुप को क्लीन चिट के साथ दिए 4600 करोड़, शेयर बने रॉकेट

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -