शास्त्र के अनुसार कुछ ऐसे काम जो सिर्फ पुरुष ही कर सकते है

शास्त्रो के अनुसार कुछ ऐसे धार्मिक कार्यो को लेकर कुछ ऐसे नियम बनाए गए है जो सिर्फ पुरुष ही कर सकते है इन कार्यो को महिलाए नहीं कर सकती, तो आइये जानते है वे कौन से कार्य है जिसे सिर्फ परुष ही कर सकते है महिलाए नहीं धार्मिक शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की महिलाये बजरंगबलि की अराधना कर सकती है लेकिन उनका स्पर्श नहीं कर सकती क्योकि बजरंगबलि को ब्रम्हचारी माना जाता है. ऐसा माना जाता है की साबुत कोहणा(कद्दू) महिलाए नहीं काट सकती, पुरुष के काटने के बाद ही महिलाए इसे काट सकती है.
 
धार्मिकशास्त्रों के अनुसार महिलाए संतान उत्पत्ति का कारक होती है इसी कारण उनके लिए नारियल को फोड़ना एक वर्जित कार्य मान कर निषिद्ध कर दिया गया था, वैसे प्रमाणिक रूप से ऐसा किसी भी धार्मिक ग्रन्ध में नहीं लिखा गया है परन्तु सामाजिक मान्यताओं तथा विश्वास के चलते वर्तमान में महिलाए नारियल नहीं फोड़ सकती. शास्त्रो के अनुसार गायत्री मन्त्र शापित है और इसी वजह से महिलाओ का इस मन्त्र का जाप करना वर्जित माना गया था

लेकिन आज के समय में माहिलाये गायत्री मन्त्र का जाप करने लगी है क्योकि गायत्री परिवार के सदस्यों का यह कहना हैं क‌ि गायत्री परिवार के प्रमुख आचार्य श्री रामशर्मा ने इस मंत्र को शाप मुक्त कर द‌िया है. महिलाओं का जनेऊ धारण करना भी वर्जित माना गया है वह जनेऊ बना सकती है लेकिन उसे धारण नहीं कर सकती.हिन्दू धर्म के अनुसार महिलाए कभी किसी की बलि नहीं चढ़ा सकती है बलि चढ़ाना सिर्फ पुरुषो के लिए मान्य है. 

 

आगे से जब भी भोजन करने के लिए बैठें, तो इन बातों का रखे ध्यान

घर के आस पास छोटे बड़े पौधे का होना, बताता है शुभ अशुभ के बारे में

इस चमत्कारी रत्न को पहनने मात्र से बदल जायेगी आपकी भी किस्मत

अगर आपका भी बच्चा पढाई में कमजोर है तो ये उपाए बना देगा उसे बुद्धिमान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -