आप बन रही खाप, तेज हो रहे विरोधियों के स्वर

Apr 21 2015 03:34 PM
आप बन रही खाप, तेज हो रहे विरोधियों के स्वर
नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी में अंर्तकलह तो काफी समय से चली आ रही है। मगर इस अंर्तकहल से उपजे विवाद का शोर थमने का नाम नहीं ले रहा है। पार्टी ने निकाले जाने के बाद प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव ने अपने विरोध के स्वर तेज कर दिए हैं तो वहीं अपने बेटे के बचाव में अब पिता शांति भूषण भी सामने आ गए हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार प्रशांत भूषण के पिता शांति भूषण ने कहा है कि उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पहचानने में गलती कर दी है। केवल स्वराज संवाद सम्मेलन करने पर ही सदस्यों को बाहर कर दिया गया। यही नहीं केजरीवाल काठ की हांडी की तरह बर्ताव करने लगे हैं। 

वे यह नहीं समझ पा रहे हैं कि हांडी आग पर एक बार ही चढ़ती है बार - बार नहीं। दूसरी ओर आम आदमी पार्टी ने लोकसभा में पार्टी के नेता पद से धर्मवीर गांधी को हटाकर उनके स्थान पर भगवंत मान को लिया है। इस दौरान प्रशांत भूषण ने कहा कि अरविंद तानाशाह की तरह बर्ताव कर रहे हैं। पार्टी के अन्य सदस्य उनकी हां में हां मिलाने पर मजबूर हैं। कुछ नेता ऐसे हैं जिन्हें शर्म ही नहीं है। 

पार्टी के संविधान से खिलवाड़ किया जा रहा है। आप खाप पंचायत की तरह हो गई है। जिसमें एक नेता की तानाशाही सभी पर हावी है। सभी उसकी बात मानने पर मजबूर है। फिर उसका पार्टी के भविष्य पर कोई भी असर पड़ रहा हो किसी को परवाह नहीं है। जब मर्जी में आए वह फैसला सुना दिया जाता है।