इस मंदिर में सालों से हो रही है रावण की पूजा, है स्वर्ग और नर्क की सीढ़ियां