'1200 ट्रैक्टर और 14 हजार किसान'! आज फिर दिल्ली कूच की तैयारी, बॉर्डर पर स्पेशल फाॅर्स तैनात
'1200 ट्रैक्टर और 14 हजार किसान'! आज फिर दिल्ली कूच की तैयारी, बॉर्डर पर स्पेशल फाॅर्स तैनात
Share:

नई दिल्ली: सरकार के साथ चार बार की चर्चा बेनतीजा निकलने के पश्चात् आज फिर किसान दिल्ली की ओर कूच करने की तैयारी में हैं। वही दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को राष्ट्रीय राजधानी में एंट्री करने से रोकने की तैयारी में जुटी हुई है। मंगलवार को पुलिस ने इसको लेकर एक मॉक ड्रिल भी की। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) जिमी चिरम ने कहा कि दिल्ली-हरियाणा सीमा पर अर्धसैनिक बलों के अतिरिक्त बल की पर्याप्त तैनाती है। एक अन्य अफसर ने कहा कि दिल्ली पुलिस किसानों को शहर की सीमाओं पर रोकने के लिए तैयार है। सुरक्षा कर्मियों को एक भी प्रदर्शनकारी या वाहन को राजधानी में प्रवेश करने की अनुमति नहीं देने का निर्देश दिया गया है।

वही केंद्र सरकार को किसान नेता राकेश टिकैत ने चुनौती देते हुए कहा है कि सरकार किसानों से पंगा ना ले। उन्होंने कहा, 'हम शांति से बैठे हैं। सरकार यह न सोचे हम डर गए। ये आम लोगों के मन में डाल रहे हैं कि आम लोग किसानों से नफरत करें। सिख किसानों को खालिस्तानी बता रहे हैं। गृह मंत्रालय की आंतरिक रिपोर्ट्स के अनुसार, तकरीबन 1200 ट्रैक्टर-ट्रॉलियों, 300 कारों, 10 मिनी-बसों और अन्य छोटे वाहनों के साथ, राजपुरा-अंबाला रोड पर शंभू बैरियर पर तकरीबन 14000 लोगों को इकट्ठा होने की अनुमति दी गई है। इसी प्रकार प्रदेश ने ढाबी-गुजरान बैरियर पर तकरीबन 500 ट्रैक्टर ट्रॉलियों के साथ तकरीबन 4500 लोगों की विशाल सभा की अनुमति दी है।

पंजाब के DGP ने पुलिस अफसरों को पत्र लिखकर कहा है कि किसी भी JCB, पोकलेन, टिपर, हाइड्रा तथा दूसरी शक्तिशाली मशीनों को खनौरी और शंभू बॉर्डर तक पहुंचने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। किसान आंदोलन चल रहा है तथा इनपुट से संकेत प्राप्त होता है कि प्रदर्शनकारियों की हरियाणा पुलिस के बैरिकेड्स को तोड़ने एवं हरियाणा में प्रवेश करने की योजना है। पत्र में बताया गया है कि यह कदम दोनों प्रदेशों में कानून व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ देगा।

अब बच्चों के कन्धों से कम होगा बैग का बोझ, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

कुर्ती और साड़ी के साथ पहनें ये ऑक्सीडाइज्ड ईयररिंग्स

'रोहित सबसे अच्छा विकल्प..', T20 वर्ल्ड कप को लेकर सौरव गांगुली का बड़ा बयान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -