जंगली फल खाने से हुई 100 बच्चों की मौत, हुआ बड़ा खुलासा

कुछ दिन पहले अचानक से ओडिसा मे 100 बच्चों की मौत हो गई थी। जिस पर पूरी तरह से खुलासा नहीं हो पाया था। उस समय मिली जानकारी के अनुसार यह बताया गया था की बच्चों की मौत जापानी इंसेफेलाइटिस बीमारी से हुई है। जबकी ऐसा नहीं है इसके लिए इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टॉक्सिकोलॉजी के विशेषज्ञ इसके जांच में जुटे हुए थे।

जांच के बाद इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टॉक्सिकोलॉजी के एक विशेषज्ञ दल ने जानकारी देते हुए बताया की बच्चों की मौत का कारण केवल जापानी इंसेफेलाइटिस बीमारी नहीं है बल्कि बच्चों की मौत एक तरह का जहरीला फल खाने से हुई है। क्योंकि मृत बच्चों के पेशाब की जांच की गई थी और जिसमें से कई बच्चों के पेशाब में ज़हरीले फल के अंश पाए गए हैं। और जो जहरीला फल है उसे ओडिशा में जंगली चाकुंडा कहा जाता है।

विशेषज्ञ ने बताया की यह फल एक फली की तरह दिखता है यह फल बारिश के मौसम में पाया जाता है। और बहुत ही आसानी से पाया जा सकता है। लेकिन ये फल ज़हरीला होता है इसके बारे में लोगों को कम ही जानकारी है। इसे खाने से यह दिमाग, हृदय, गुर्दे व मांसपेशियों पर बुरा प्रभाव डालता है। मामले में राष्ट्रीय शिशु अधिकार सुरक्षा आयोग भी रिपोर्ट की मांग कर चुका है। राज्य में बच्चों की मौत को लेकर विरोध प्रदर्शन भी हुए हैं।

सरकार का अहम फैसला नोट बदलने पर लग सकती है रोक फिल..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -