अबसे किसी दूसरे देश के लिए नहीं लड़ेगा पाकिस्तान : इमरान खान

Sep 07 2018 05:04 PM

इस्लामबाद। दक्षिणी एशियाई छेत्रों में अपनी पकड़ मजबूत करने की ख्वाइश रखने वाला देश चीन लम्बे समय से पकिस्तान से दोस्ती मजबूत करने की जुगत में लगा हुआ है। इसके पीछे चीन की मंशा यह है कि अगर भविष्य में भारत और चीन के  बीच कोई युद्ध हो तो पकिस्तान चीन का साथ दे लेकिन अब पकिस्तान ने चीन के इन इरादों पर पानी फेर दिया है। 

रिपोर्ट में हुआ खुलासा, पाकिस्तान के पास है इतने परमाणु हथियार

दरअसल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में दिए अपने एक बयान में कहा है कि पाकिस्तान भविष्य में किसी दूसरे देश के लिए लड़ाई नहीं लड़ेगा।  गुरुवार को पाकिस्तान रावलपिंडी में सेना मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जनता को सम्बोधित करते हुए यह बाते कही। इस समारोह में पकिस्तान के सांसद, खिलाड़ी, राजनयिक, कलाकार सहित कई अन्य हस्तिया भी शामिल हुई थी। इस समारोह में इमरान ने यह भी कहा कि वे  शुरू से ही जंग के खिलाफ हैं और उनकी सरकार के सत्ता में आने से बाद से अब पकिस्तान की हर नीति केवल पाकिस्तान के हित में ही होगी। 

2+2 वार्ता: भारत-अमेरिका के बीच महत्वपूर्ण रक्षा करार

हालाँकि पकिस्तान के इस बयान से भारत को कोई बहुत बड़ी उम्मीद नहीं है क्योकि पकिस्तान पहले भी अमन और शांति की बाते करने के बाद सीमा पर युद्ध विराम को तोड़ चुका है। इसके सेहत ही गुरूवार को ही  पाकिस्‍तान के सेना प्रमुख ने भी एक समारोह में भारत को चूनौती देते हुए कहा था कि पकिस्तान की सेना कश्मीर की सरहद पर बहे खून का पूरा हिसाब लेगी।

ख़बरें और भी 

पाक ने खोले करतारपुर बॉर्डर के द्वार, सिद्धू बोले इमरान ने जीवन सफल कर दिया

पाकिस्‍तानी की भारत को चेतावनी, खून का बदला खून से लेंगे !

भारत और अमेरिका ने पाक को आतंकवाद ख़त्म करने के लिए चेतवानी दी

Related News