lohri

पौष के अंतिम दिन सूर्यास्त के बाद यानी मकर संक्रांति की पहली रात को लोहड़ी का पर्व  मनाते हैं। जी दरअसल यह पर्व मकर संक्रांति से ठीक पहले मनाया जाता है। इस पर्व को पंजाब और हरियाणा के लोग बड़ी ही धूम-धाम से मनाते हैं। आप जानते ही होंगे यह पर्व उनके लिए बड़ा ख़ास होता है और इस पर्व के पहले से ही पंजाब में रौनक नजर आती है। वैसे लोहड़ी के दिन अग्नि में तिल, गुड़, गजक, रेवड़ी और मूंगफली चढ़ाने का रिवाज होता है। इस बार देशभर में 13 जनवरी को लोहड़ी का पर्व मनाया जाने वाला है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -