Zomato दे रहा है 3 लाख रुपए का तोहफा, सिर्फ वेबसाइट और ऐप में जाकर करना होगा ये काम...

जोमैटो ने अपने बग बाउंटी प्रोग्राम के हिस्से के तौर पर सिक्योरिटी रिसर्चर्स तथा एथिकल हैकर्स को अपने पोर्टल तथा ऐप्स में बग तलाशने के लिए बुलाया है. जोमैटो ने नोट किया कि उसकी सिक्योरिटी टीम कॉमन वल्नरेबिलिटी स्कोरिंग सिस्टम का उपयोग करके हानि की गंभीरता का निर्णय लेगी. संकट जितना ज्यादा गंभीर होगा, हैकर को उतना ही ज्यादा इनाम या नकद इनाम प्राप्त होगा. जोमैटो ने खतरा संबंधों को लो, मीडियम, क्रिटिकल तथा उच्च श्रेणी में डिवाइड किया है.

वही जोमैटो ने एक बयान में बताया, उदाहरण के लिए, CVSS 10.0 के साथ यदि खतरा क्रिटिकल होगा तो उपयोगकर्ता को $4,000 का पुरस्कार दिया जाएगा. वहीं CVSS 9.5 के साथ खतरे के बारे में जानकारी लगाने के लिए उपयोगकर्ता को $3,000 से सम्मानित किया जाएगा. जोमैटो के बग बाउंटी प्रोग्राम में हिस्सा लेने के लिए टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन इनेबल्ड करना होगा.

कंपनी ने रिसर्चर और एक्सपर्ट का स्वागत किया:-
जोमैटो ने बताया कि उसने अपने इनाम को बढ़ाकर 4000 डॉलर कर दिया है जो कि उसके सिस्टम में बग तलाशने के लिए करीब 2.99 लाख रुपये है. हम जोमैटो में सुरक्षा को गंभीरता से लेते हैं, तथा हम अपने समुदाय की सिक्योरिटी के लिए प्रतिबद्ध हैं. अगर आप एक सिक्योरिटी रिसर्चर तथा एक्सपर्ट हैं एवं आपको लगता है कि आपने जोमैटो के पोर्टल या ऐप्स के साथ सुरक्षा से जुड़े मसलों की पहचान की है तो हम आपका स्वागत तथा सराहना करेंगे यदि आप हमें इस मसले पर और प्रकाश डालें.

व्हाट्सऐप ने दिल्ली HC को कहा- हमने अपनी इच्छा से नई पॉलिसी पर लगाई पाबंदी...

भारतीय वैक्सीन कोवैक्सीन के लिए बड़ी ख़ुशख़बरी, WHO ने दिया ये बयान

फाइजर और बायोएनटेक ने ट्रांसमिसिबल डेल्टा वेरिएंट को लक्षित करने के लिए कोविड बूस्टर शॉट किया विकसित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -