अमेरिका के लिए आतंक का दूसरा नाम 'जिका'

Jan 29 2016 08:32 AM
अमेरिका के लिए आतंक का दूसरा नाम 'जिका'

अमेरिका : आपको ये सुनकर या पढ़कर अजीब लग रहा होगा । कि जिस देश ने आतंकियो को घर मे घुस कर मौत के घाट उतार दिया । ऐसे देश के लिए मच्छर का आतंक कैसे। जी हा ये एक अद्भुत सत्य है कि मच्छर से अमेरिका को आतंकियो से बड़ा खतरा बना हुआ है हम आपको बता दे कि इबोला ओर स्वाइन फ्लू से भी खतरनाक एक और वायरस अमेरिका को खौफ के गोते खिला रहा है जो कि एक एडीज नामक मच्छर के द्वारा फैल रहा है इस वायरस का नाम जिका है जो कि एक जानलेवा बीमारी माइक्रोसिफेली होने का कारण बनता है ।

अमेरिका के लिए ये एक दुर्भाग्य पूर्ण समय चल रहा जिसमे वह मच्छरो से सुरक्षित नहीं हो पा रहा डबल्यूएचओ के कम्यूनिकेबल डिजीज एंड हेल्थ एनालिसिस के मुताबिक अब तक इस वायरस द्वारा होने वाली बीमारी जिका  से अमेरिका के लगभग 40 लाख से ज्यादा नागरिक प्रभावित हो चुके है आखिर क्या है जिका? जिका एक प्रकार का वायरस है जो एडीज नामक मच्छर के काटने से हमारे शरीर में प्रवेश करता है जिसका सबसे ज्यादा प्रकोप नवजातों पर ही होता है इस वायरस से प्रभावित बच्चो का सिर बहुत ही छोटा रह जाता है जिससे सीधे बच्चो के दिमाग पर असर पड़ता है तथा शरीर रोगो से लड़ने की क्षमता खो देता है तथा संक्रमित व्यक्तियों में आखे लाल हो जाना ए जोड़ो में तेज दर्द एचिड़चिड़ापनए तेज बुखार आदि प्रकार की समस्याए होने लगती है !

कहा से आया से वायरस ओर कौन से देश है प्रभावित 

इस रोग का सबसे पहला मामला 1947 में युगांडा में सामने आया इसके बाद 2015 तक यह अफ्रीका एब्राज़ीलएअमेरिका तथा आसपास के देशो में भी फ़ैल गया !कनाडा और चिली के आलावा सभी देशो को इसकी चपेट में आने की आशंका बानी हुई  है फिलहाल इससे अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित है तथा यहा पर इस वायरस से बचाव के लिए महिलाओ से 2018 तक प्रेगनेंट ना होने का विशेष आग्रह किया किया है क्योकि इस वायरस का सबसे ज्यादा खतरा नवजातों पर ही है यह एक जन्मजात रोग भी है.

डबल्यूएचओ कि एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत को भी इस वायरस से खतरा हो सकता है अभी कुछ ही महीनो पश्चात ब्राज़ील मे ओलंपिक शुरू होने वाले है वहा दुनिया भर के लोगो के साथ भारत के भी कई लोग हिस्सा लेने जाएंगे इससे उन लोगो द्वारा वायरस का भारत आना लाज़मी है। उल्लेखनीय है कि ब्राज़ील भी इस वायरस कि चपेट मे है ओर पिछले 4 महीने मे लगभग 4000 हजार छोटे सिर के जिका से प्रभावित बच्चो ने जन्म लिया जो कि ब्राज़ील के लिए भी अति गंभीर स्थिति है.

क्या उपाय किए जा रहे बचाव मे ?

फिलहाल तो  जिका से निजात पाने के लिए ब्राज़ील कि सेना तक इस वायरस से जूझ रही है सेना के जबान डोर टू डोर जाकर मच्छर पनपने वाली जगहो पर दवाइयो का छिड़काओ कर रहे है । साथ ही अमेरिका अर्जेन्टीनाए चिलीए बोलिवियाए पेरुए रिकाए पनामाए कोस्टा आदि देशो मे भी इसके खिलाफ लोगो को जागरूक कर मच्छरो से बचने ओर सावधान रहने कि सलाह दी जा रही है साथ ही डबल्यूएचओ द्वारा भी लोगो को जिका से बचाने के उपाय ढूँढे जा रहे है