सर्वे को लेकर जारी विवाद के बीच मदरसे के छात्रों को सम्मानित करेगी योगी सरकार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जारी सर्वे (Madarsa Survey) विवाद के बीच योगी सरकार मदरसा के प्रतिभाशाली बच्चों को सम्मानित करने जा रही है। अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि मदरसे के कुछ प्रतिभाशाली बच्चे जिन्होंने NEET परीक्षा पास की है, उन्हें सम्मानित किया जाए ताकि अन्य बच्चों में उच्च शिक्षा के प्रति जागरूकता पैदा हो और मदरसों के बच्चों में आगे बढ़ने व पढ़ने के लिए प्रेरित किया जा सके।

'मुकेश अंबानी का घर वक्फ बोर्ड की संपत्ति है, तुड़वा देते..', केजरीवाल का Video वायरल

धर्मपाल सिंह ने कहा है कि मदरसों (Madarsa Survey) की शिक्षा के आधुनिकीरण से छात्र एवं छात्राएं राज्य सरकार की मंशा के मुताबिक, डॉक्टर, इंजीनियर, IAS व उच्च पदों पर सेलेक्ट हो सकेंगे। इतना हीं नहीं मदरसों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर (DBT) के जरिए उनके या उनके अभिभावकों के खातों में धनराशि भेजी जाएगी। जिससे छात्र-छात्राएं सुविधानुसार पुस्तकों को खरीद सकें। धर्मपाल सिंह ने गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे कराने की प्रगति की समीक्षा करते हुए यह कहा कि सर्वे कार्य के बारे में सभी जिलों से सर्वे कार्य की प्रगति का पर्यवेक्षण नियमित रूप से किया जाए और सर्वे को लेकर किसी तरह की भ्रम की स्थिति पैदा न होने पाए।

'भारत में छिड़ा गृह युद्ध..', जैसी फर्जी ख़बरें फैलाने वाले 10 YouTube चैनलों पर मोदी सरकार का एक्शन

मंत्री ने आगे कहा कि सर्वे (Madarsa Survey) कार्य केवल गैर मान्यता प्राप्त मदरसों की सूचना संकलित किए जाने के मकसद से कराया जा रहा है न कि किसी तरह की जॉच से संबंधित है। उन्होंने कहा कि मदरसों की शिक्षा को गुणवत्तायुक्त एवं आधुनिक शिक्षा प्रणाली के अनुरूप बनाना राज्य सरकार का मकसद है।

शाहीनबाग और जामिया से पकड़ाए PFI के लोग, आतंकी संगठन ISIS से जुड़े तार

जम्मू कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद का एक और आतंकी ढेर, इस महीने मारे गए 9 दहशतगर्द

देशभर में PFI पर क्यों पड़ रहे छापे, आखिर क्या है इस संगठन का मकसद ?

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -