अगर सपा, बसपा या कांग्रेस सत्ता में होतीं तो अयोध्या में राम मंदिर कभी न बनने देतीं: योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में सपा, बसपा और कांग्रेस को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा- 'अगर सपा, बसपा या कांग्रेस सत्ता में होतीं तो अयोध्या में राम मंदिर कभी न बनने देतीं।' जी दरअसल मुख्यमंत्री ने गोंडा जिले में 1132 करोड़ रुपये की 144 विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया और इसी के बाद उन्होंने अपने संबोधन में विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, 'आयोध्या में भगवान राम के मंदिर का भव्य निर्माण शुरू हो चुका है। अगर सपा, बसपा या कांग्रेस सत्ता में होतीं तो मंदिर कभी बनने नहीं देतीं। उन्होंने कहा कि जो लोग पहले भगवान राम के अस्तित्व को नकारते थे, वे आज भगवान राम को अपना बता रहे हैं।' इसी के साथ उन्होंने आतंकवाद को कांग्रेस की देन बताते हुए कहा, 'कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म करके सरकार ने अपने वादे पर अमल करके दिखाया है और सरकार सामूहिक प्रयास के साथ काम कर रही है।'

इसी के साथ मुख्यमंत्री ने यह भी कहा, 'पिछली सरकारों के शासनकाल में गरीबों को न आवास, न बिजली, न शौचालय और न ही रसोई गैस मिलती थी। पहले गोंडा में जो योजनाएं आती थीं वे भ्रष्टाचार की शिकार हो जाती थीं और साल 2017 के पहले प्रदेश में कानून-व्यवस्था ध्वस्त थी। तब माफिया सत्ता का सुख भोगते थे और होली, दीवाली तथा जन्माष्टमी से पहले कर्फ्यू लग जाता था, मगर भाजपा की सरकार आने के बाद परिवर्तन साफ देखा जा सकता है।'

आगे उन्होंने कहा, 'साल 2017 से पहले गोंडा और बलरामपुर दंगों की चपेट में होते थे, लेकिन आज दंगाइयों की सात पीढ़ी भरपाई करते खत्म हो जाएंगी।' इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा, 'अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर हमलावर हुए आतंकवादियों और दंगाइयों पर से मुकदमा वापस लेने वाली सरकार दलितों पर झूठे मुकदमे दर्ज कर उन्हें फंसाती थी और ऐसे लोग दलित समाज के कभी हितैषी नहीं हो सकते।'

लखीमपुर हिंसा में SIT ने तेज की जांच, इन नंबर्स पर अफसरों को दे सकते हैं जानकारी

लखीमपुर हिंसा: भाजपा कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में 2 गिरफ्तार

लखीमपुर हिंसा: यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में रखा अपना पक्ष, सील कवर में पेश करेगी सबूत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -