सीएम योगी का एक ओर बड़ा कदम, पांच लाख श्रमिकों के लिए किया ऐसा काम

यूपी में कोरोना वायरस की रोकथाम काफी तेजी से चल रही है. वही, उत्तर प्रदेश में पहुंचे प्रवासी श्रमिकों की चिंता उत्तर प्रदेश सरकार ने कर ली है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अपनी कोर टीम के साथ बैठक में करीब पांच लाख प्रवासी श्रमिकों को रोजगार कराने की तैयारी कर ली है.

क्या 20 अप्रैल के बाद उद्योग धंधो को मिलेगी राहत ?

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस संक्रमण के कारण करीब डेढ़ महीने के लॉकडाउन के दौरान अन्य राज्यों से प्रदेश लौटे पांच लाख से अधिक प्रवासी श्रमिकों को नौकरी और रोजगार मुहैया कराने की योजना पर मुहर लगी दी है. इसके लिए सरकार ने उच्च स्तरीय कमेटी गठित की है. यह समिति इन श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करेगी, जिससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत होगी. कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में गठित इस समिति में प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास, प्रमुख सचिव पंचायती राज, प्रमुख सचिव एमएसएमई तथा प्रमुख सचिव कौशल विकास शामिल हैं.

क्या दिल्ली लॉक डाउन में कल से मिलेगी छूट ? सीएम केजरीवाल ने किया बड़ा ऐलान

इसके अलावा यह समिति ओडीओपी के तहत रोजगार सृजन के साथ-साथ बैंक के माध्यम से लोन मेले आयोजित करना सुनिश्चित करेगी. इसके अलावा रोजगार मेला का भी आयोजन किया जाएगा जिससे लोगों को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा सकें. यह समिति रोजगार के ज्यादा अवसर कैसे सृजित किए जाएं इस पर भी अपने सुझाव देगी. समिति एमएसएमई के तहत विभिन्न उद्योंगों में रोजगार के अवसर सृजित करने की सम्भावनाएं भी तलाशेगी.

राजकीय सम्मान के साथ हुआ इंस्पेक्टर देवेंद्र का अंतिम संस्कार, सीएम शिवराज ने जताया शोक

लॉकडाउन ख़त्म होने के बाद शुरू होंगी ट्रेनें ? जानिए क्या है सरकार का प्लान

227 लाशों से पटा कब्रिस्तान, सामने आया इंदौर के मच्छी बाजार का काला सच

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -