योगी के 'अयोध्या' और 'प्रयागराज' फरमान के बाद भी पुराने नाम से रिजर्वेशन कर रहा रेलवे

Dec 08 2018 11:09 AM
योगी के 'अयोध्या' और 'प्रयागराज' फरमान के बाद भी पुराने नाम से रिजर्वेशन कर रहा रेलवे

प्रयागराज: सियासत में नाम बदलने की राजनीति कोई आज की बात नहीं है, जिन शासकों ने भारत पर शासन किया,  उन्होंने भी अपने-अपने नाम दिए, दिल्ली से लेकर पटना और अमृतसर से कश्मीर, कन्याकुमारी से उत्तर प्रदेश की तमाम किले, सड़कें, शहर और जिले इस बात के गवाह हैं. इसी तर्ज पर फैजाबाद को अयोध्या व इलाहाबाद को प्रयागराज करने का ऐलान हिन्दू वाहिनी सेना के मुखिया व उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जारी कर दिया है. 

भारत के खिलाफ लोगों को भड़काने के लिए इस देश की मीडिया को मिल रही है मोटी रकम

योगी के ऐलान के बाद रेलवे स्टेशनों के नाम के बोर्ड बदल गए, लेकिन उत्तर प्रदेश का रेल मंत्रालय अभी तक फैजाबाद व इलाहाबाद की कन्फर्म टिकटें प्रदान कर रहे हैं, टिकटों में फैजाबाद व इलाहाबाद के नामों से बुकिंग की जा रही है, रेलवे चार्ट में जिलों के नाम यही छपे हुए हैं. डी.आर.एम. के कार्यालय से एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अभी तक फैजाबाद को अयोध्या जिले में तबदील करने का नोटिस नहीं आया है.

सर्दियों में बढ़ सकती है अस्‍थमा के रोगियों की संख्या, रखें कुछ बातों का ध्यान

आपको बता दें कि 6 दिसम्बर की तारीख व अयोध्या का जो नाता 1992 में जुड़ा है, वो आज भी जस का तस है, राम लला टाट में हैं और उनके नाम पर सियासत ठाठ में चल रही है. पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या और इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज रख दिया था, उस पर भी काफी बवाल मचा था.

खबरें और भी:-

नोबल विजेता ने कहा कैंसर कभी नहीं होगा खत्म

क्रिकेट में उत्तराखंड का भविष्य उज्जवल : खन्ना

सराफा बाजार : लगातार चार दिनों की बढ़त के बाद आज घटे सोने-चांदी के दाम