धर्म आधारित राजनीति पर योगी आदित्यनाथ ने दिया गर्म करने वाला बयान

धर्म आधारित राजनीति पर योगी आदित्यनाथ ने दिया गर्म करने वाला बयान

नई दिल्ली : एक ओर जहां देश में जाति आधारित जनणना के आंकड़े जारी करने की मांग की गई वहीं दूसरी ओर सरकार ने वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर धर्म आधारित जनसंख्या के आंकड़े जारी की। जिसे लेकर भाजपा नेता योगी आदित्य नाथ ने सरकार का समर्थन किया है। उन्होंने इस दौरान मुस्लिमों की बढ़ती जनसंख्या पर भी सवाल खड़े किए हैं यही नहीं उन्होंने कहा कि तेजी से जनसंख्या के बढ़ने की बात बेहद खतरनाक है। उन्होंने जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए सरकार से उपाय करने की मांग भी की। 

मिली जानकारी के अनुसार भाजपा नेता आदित्यनाथ ने कहा कि जनसंख्या वृद्धि दर में अंतर के बाद भी 10 वर्ष में हिंदुओं की आबादी लगभग वैसी ही बढ़ जाती है जैसी देश में मुस्लिमों की आबादी बढ़ जाती है। मगर परेशानी है कि मुसलमान अधिक तेजी से बढ़ जाती है। भारत में दस साल में हिंदू बढ़ जाते हैं उतनी मुसलमानों की कुल आबादी हो जाती है।

हिंदुओं की जनसंख्या बढ़ने की दर से अधिक वर्ष 2001 से वर्ष 2011 में हिंदुओं की जनसंख्या 16.8 प्रतिशत की दर से बढ़ी। मुसलमानों की जनसंख्या 24.6 प्रतिशत की दर से बढ़ी। 13000 करोड़ की जनसंख्या में भारत की जनसंख्या 13000 करोड़ होने की संभावना भी भाजपा नेता योगी आदित्यनाथ ने जताई। उन्होंने कहा कि जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए सरकार को सख्त उपाय करना होंगे।