ग्रामीणजन को बताए योग के फायदे

हरिद्वार। भारत स्वाभिमान ट्रस्ट एवं पतंजलि योगपीठ के संयुक्त तत्वावधान में पांच दिवसीय योग चिकित्सा एवं ध्यान शिविर का शुभारंभ हुआ। इस शिविर के पहले दिन, योग प्रचारक सतीश आर्य ने आसन व प्राणायम के बारे में उपस्थितों को बताया। शिविर में मनोज बैंसला, दुष्यंत प्रेम, हीरालाल, दिव्या, भावना और विद्यालय के प्राचार्य डाॅ. संदीप अग्रवाल अदि मौजूद थे।

इस शिविर के अलावा क्षेत्र में मौजूद एक निजी और एक शासकीय विद्यालय में बच्चों को योग का प्रशिक्षण दिया गया। उल्लेखनीय है कि, केंद्र सरकार के प्रयासों के माध्यम से संयुक्त राष्ट्र संघ ने योग का महत्व समझा और फिर योग को वैश्विक स्तर पर 21 जून को एक नई पहचान मिली। जिसके तहत, समूचे विश्व में विश्व योग दिवस पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

विश्व योग दिवस के मौके पर, विभिन्न स्थानों पर योग व ध्यान के आयोजन होते हैं। लोगों द्वारा सामूहिक तौर पर योग क्रियाओं और आसनों को लेकर परफाॅर्मेंस दिया जाता है। पतंजलि योगपीठ के संस्थापक और योग गुरू बाबा रामदेव को समूचे विश्व में योग को लोकप्रिय बनाने के लिए जाता है। बाबा रामदेव द्वारा विभिन्न स्थानों पर योग शिविरों का आयोजन किया जाता रहा है, जिसके चलते योग जनसामान्य में लोकप्रिय हो गया है।

योग शिक्षिका राफिया के परिजन तनाव में

योग प्रशिक्षिका के घर फिर पथराव की अफवाह

''मुझे लगता है योग मजहब से परे है- सोनू निगम

बॉलीवुड की चकाचौन्ध छोड़ जी रही है सिंपल लाइफ

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -