राष्ट्रपति चुनाव: यशवंत सिन्हा ने PM मोदी से माँगा समर्थन, सीएम सोरेन को भी किया फ़ोन

नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी यशवंत सिन्हा ने शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से 18 जुलाई को होने वाले चुनाव के लिए उनका समर्थन मांगा है। लिहाजा, सिन्हा ने झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन को भी फोन किया और उन्हें झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की उस प्रतिबद्धता की याद दिलाई जब उन्हें (सिन्हा) राष्ट्रपति चुनाव के लिए संयुक्त विपक्षी प्रत्याशी के तौर पर नामित किया गया था।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के सूत्रों ने कहा है कि, 'हमने अपना अभियान आरंभ कर दिया है और चुनाव में समर्थन लेने के लिए सभी तक पहुंचेंगे।' उन्होंने कहा कि यशवंत सिन्हा ने पीएम मोदी और राजनाथ सिंह के कार्यालयों में फोन किया और अपनी उम्मीदवारी के समर्थन के लिए एक संदेश छोड़ा। यशवंत सिन्हा ने अपने गुरु और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी से भी संपर्क किया। पूर्व केंद्रीय मंत्री सोमवार को दोपहर बाद शीर्ष विपक्षी नेताओं की उपस्थिति में अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।  

JMM और पूर्व पीएम एच डी देवेगौड़ा के नेतृत्व वाले जनता दल (सेकुलर) को राष्ट्रपति पद की NDA की प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में देखा जा रहा है, जिन्होंने शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र जमा किया है। यशवंत सिन्हा, जिनके शुक्रवार को अपने गृह राज्य झारखंड से राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपने अभियान का आगाज़ करने की उम्मीद थी, को तब इसमें विलंब करने के लिए विवश होना पड़ा जब यह सामने आया कि सोरेन संथाल समुदाय से ताल्लुक रखने वाली मुर्मू के पक्ष में झुक रहे हैं।

'झुकेगा नहीं': उद्धव ठाकरे की बर्बादी देख पुष्पा स्टाइल में दिखीं सांसद नवनीत राणा

राहुल गांधी के दफ्तर पर हमला, मची भारी तोड़फोड़..., DSP निलंबित

'दम है तो ठाकरे और शिवसेना का नाम लिए बिना खड़े होकर दिखाओ’, एकनाथ शिंदे पर जमकर बरसे उद्धव

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -