यशवंत सिन्हा ने दिखाए बगावती तेवर, PM मोदी पर बोला हमला

नई दिल्ली : भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री यशवंत सिन्हा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता के लिए पूर्ववर्ती UPA सरकार का रास्ता अपनाने और जर्मनी, जापान तथा ब्राजील के साथ हाथ मिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की है. सिन्हा ने कहा कि भारत G-4 से अलग रास्ता अपना सकता था और इससे केंद्र सरकार को इस मामले में उतना परेशान नहीं होना पड़ता. उन्होने कहा कि PM ने G-4 की UPA की नीति पर भरोसा करके गलती की है.

जर्मनी और जापान को इस समूह में शामिल किए जाने पर उन्होने कहा कि विकासशील देशों से हाथ मिलाना एक अलग बात है और दो विकसित देशों जर्मनी और जापान को समूह में शामिल करना अलग बात है. जब उनसे पूछे गया कि क्या PM मोदी को पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह सरकार द्वारा अपनाए रास्ते की बजाय स्थायी सदस्यता के लिए दूसरा रास्ता चुनना चाहिए था. इस पर सिन्हा ने कहा कि हां, मैं इससे सहमत हूं. जितना अधिकएकजुटता हम G-4 के साथ दिखाएंगे, उतना ही स्थायी सदस्यों को शामिल करने का विरोध होगा और संभावनाएं कम होती जाएंगी.

यशवंत सिन्हा ने कहा कि आतंकवादी समूह IS के खिलाफ वैश्विक गठबंधन में और ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर रोक लगाने में अमेरिका तथा P 5 प्लस 1 समूह में शामिल न होकर भारत ने गलती की है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -