भारत में अभी कोरोना ने दिखाया है ट्रेलर, इस महीने में होगी भारी तबाही - स्टडी

नई दिल्ली: भारत में लॉकडाउन 3.0 लागू हो चुका है. किन्तु कोरोना के मामले अब भी लगातार बढ़ रहे हैं, और इसका चरम पर पहुचना अभी बाकी है. कोलकाता स्थित इंडियन ऐसोसिएशन फॉर कल्टिवेशन ऑफ साइंस (IACS) में हुई एक स्टडी के अनुसार इस समय देश में कोरोना की महामारी अपने व्यापक रूप पर नहीं पहुंची है बल्कि इस वर्ष जून के अंत तक ये महामारी अपने प्रचंड रूप में होगी. 

स्टडी में यह भी बताया गया है कि देशभर में लॉकडाउन के कारण महामारी के चरम पर पहुंचने का समय एक महीने तक टल गया है, जिससे कोरोना से निपटने के लिए बेहतर बंदोबस्त किए जा सके हैं. बायो कम्प्यूटेशनल मॉडल पर आधारित ये स्टडी बताती है कि भारत में जून के अंत तक लगभग डेढ़ लाख लोगों के कोरोना से संक्रमित होने के आसार हैं. 

इस अध्ययन में रिप्रोडक्शन नंबर की सहायता से बताया गया है कि कोरोना का संक्रमण कितनी तेजी से फैल रहा है. स्टडी में रिप्रोडक्शन नंबर 2.2 बताया गया है. जिसका सीधा अर्थ है कि 10 लोगों से ये संक्रमण औसतन 22 लोगों में फैल रहा है. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिग सही तरीके से पालन करने पर ये रिप्रोडक्शन नंबर कम होकर 0.7 तक पहुचने की आशा है.

कोरोना : विदेश से भारतीयों को वापस लाने के लिए इन विमानों ने भरी उड़ान

कोरोना : इस सीएम को मिली लॉकडाउन में छूट न देने की सलाह

इस राज्य के मुख्यमंत्री राहत कोष में छोटे बच्चों ने किया दान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -