श्री शनि कष्टों से निवारण देता है नवग्रह शनि मंदिर का पूजन

ज्योतिषीय मान्यता में सूर्य पुत्र शनिदेव का बड़ा महत्व है. शनि देव के पूजन से जहां शनि पीड़ा से होने वाले कष्टों से मुक्ति मिलती है वहीं श्रद्धालुओं को शनि देव का आशीर्वाद मिलता है जिससे श्रद्धालु धन-धान्य से संपन्न और समृद्ध होते हैं।

श्रद्धालुओं द्वारा भगवान श्री शनिदेव का अर्चन व पूजन करने से विभिन्न पाप समाप्त हो जाते हैं. यदि भगवान शनि देव के मंदिर में शनिवार को दर्शन करें, पूजन करें यार फिर तेल व काले तिल चढ़ाऐं तो श्रद्धालुओं को उनके कोप से मुक्ति मिलती है।

इन दिनों उज्जैन के श्री नवग्रह शनि मंदिर में पूजन के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है। यहां बड़े पैमाने पर श्रद्धालु शनि देव की आराधना करने और अपने पापों से मुक्त होने के लिए उमड़ रहे हैं। खास बात यह है कि श्री शनि देव के मंदिर में यहां पर नव ग्रह भी प्रतिष्ठापित हैं जो कि परिक्रमा मार्ग में बने हुए हैं। इस तरह से इन सभी ग्रहों और सूर्य देव की परिक्रमा का पुण्य भी मिल जाता है। यहां शनि वार को श्रद्धालु तेल, काले वस्त्र, काले तिल आदि समर्पित करते हैं। इससे श्रद्धालुओं का जीवन तर जाता है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -