पोप ने कहा पादरी बस्तियां एक शरणार्थी परिवार को पनाह दे

वेटिकन सिटी। जिस तरह से सीरियाई शरणार्थियों में शामिल एलिन की दर्दनाक मौत की एक तस्वीर ने लोगो का ध्यान अपनी और खिंचा था व लोगो के दिलो को इस तस्वीर ने रुलाया भी था. इसी के तहत वेटिकन सिटी के पॉप फ्रांसिस ने अपनी एक अपील में दोहराया है की यूरोप की प्रत्येक कैथोलिक पादरी बस्ती में रह रहे लोग एक शरणार्थी परिवारो की सहायता के तहत उन्हें रहने के लिए पनाह देने की अपील की है तथा इसके लिए वेटिकन में स्थित दो पादरी बस्तियां इस कार्य के लिए आगे आई है.  व इस कार्य के तहत वे लोगो के समक्ष एक अभिनव उदाहरण पेश करेगी. 

पोप ने अपने एक बयान में कहा की दिसंबर माह में प्रारंभ होने वाले दया के जुबली वर्ष के पूर्व ही यूरोप में रहने वाली पादरी बस्तियां, धार्मिक समुदाय व मठ इस कार्य  के लिए आगे आये व एक-एक शरणार्थी परिवारो को पनाह दे. पोप ने कहा की हजारों शरणार्थी युद्ध और भुखमरी के भय से एक नई जिंदगी की चाह में आ रहे हैं. आपको बता दे की जर्मनी में 12 हजार से अधिक पादरी बस्तियां है व इटली में इनकी संख्या करीब 25 हजार है.   
 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -