ये है दुनिया की अजीबोगरीब जगहें, फिर भी लोगों का है बसेरा

दुनिया में ऐसी कई अजीबोगरीब जगहें मौजूद हैं, जहां रहना तो दूर, इंसान का जाना भी बेहद मुश्किल हो जाता है. आज हम आपको कुछ ऐसी ही अजीबोगरीब जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके बारे में आप जानकर ये विश्वास हो जाएगा कि चाहे कितनी भी खतरनाक जगह क्यों न हो, इंसान किसी भी जगह को अपना निवास स्थान बनाने में सफल हो जाता है.

बता दें की तुर्की के प्राचीन अनाटोलिया प्रांत में मौजूद ये खूबसूरत जगह इंसानों के सबसे पुराने ठिकानों में से एक मानी जाती है. कप्पादोकिया को देखकर पता चलता है कि मानव विकास किस क्रम में आगे बढ़ा है. यहां मौजूद ईसा पूर्व छठवीं सदी के रिकॉर्ड ये बताते हैं कि ये पारसी साम्राज्य का सबसे पुराना प्रांत रहा है. ये जगह यूनेस्को की विश्व धरोहरों में शामिल है. वहीं, यमन के हराज पहाड़ों पर सबसे ऊंचाई पर दीवारों का शहर बसा है, जिसे अल हजराह के नाम से जाना जाता है. हालांकि आधिकारिक तौर पर इसे 12वीं सदी का माना जाता है. दीवार जैसे दिखने वाले इन कई मंजिला मकानों का समय-समय पर पुर्ननिर्माण होता रहा है.

वहीं, इटली के फिरेन्डे शहर के यादगार पुलों में से एक पुल ये है, जिसे पोन्टे वेकियो यानी पुराने ब्रिज (ओल्ड ब्रिज) के नाम से जाना जाता है. ये पुल आर्नो नदी पर बना है. इस पुल का निर्माण सन् 1345 में उस वक्त हुआ था, जब नदी को पैदल पार करने के लिए बने दो पुल बाढ़ में नष्ट हो गए थे. कुछ वक्त बाद इस पुल पर मकान और दुकानें बन गईं, जो समय के साथ बढ़ती जा रही हैं. ग्रीस के थेसले इलाके में खंभेनुमा खड़ी पहाड़ी पर मौजूद है रॉसानोऊ मॉनेस्ट्री (मठ). सन् 1545 में इसका दोबारा निर्माण कराया गया. इसे दो भाइयों मैक्सिमोस और लोआस्फ ने मिलकर बनाया था. इसमें चर्च, गेस्ट क्वार्टर, रिसेप्शन हॉल और डिस्प्ले हॉल समेत रहने की भी व्यवस्था है. सन् 1800 में लकड़ी का पुल बनने के बाद से यहां पहुंचना आसान हो गया है. रॉसानोऊ मठ साल 1988 से ननों के एक छोटे से समूह के रहने का ठिकाना बन चुका है.

 

कभी नहीं देखा होगा मोर को बात करते हुए, यहां देखे दिल को छू जाने वाला वीडियो

जब ट्रेक्टर ने काटा अपना बर्थडे केक तो, लोगों का आया ऐसा रिएक्शन

चोट लगने पर खुद का इलाज करवाने के लिए अस्पताल पहुंचा बन्दर, वायरल हुआ वीडियो

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -