गुजरात में है विश्व का सबसे बड़ा कुरान शरीफ

वडोदरा : दुनिया के सबसे बड़े और पुराने कुरान शरीफ की बात हो रही हो तो फिर लोग भारत की ओर ही नज़रें दौड़ा देते हैं। जी हां भारत के वडोदरा शहर की जामा मस्जिद में दुनिया का सबसे बड़ा कुरान शरीफ ग्रंथ रखा हुआ है। इसकी साज संभाल भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल हो चुके इरफान पठान और यूसूफ पठान करते हैं।

दरअसल इसी मस्जिद के आंगन में पलकर बड़े हुए पठान बंधु के परिवार द्वारा इस कुरान को सहेजा गया है। यह कुरान मस्जिद की पहली मंजिल पर एक कमरे में संभालकर रखा गया है मगर वर्ष में दो बार शब - ए - बारात पर इसे आम लोगों के लिए उपलब्ध करवाया जाता है। लोग इसके दर्शन करते हैं। इस कुरान की लंबाई 75 इंच है यह करीब 41 इंच फैली हुई है।

इसमें 30 सोपारे हैं जो कि अलग - अलग 15 पन्नों में लिखे हुए हैं। मुस्लिम वर्ष हिजरी 1200 में इसे लिखा गया। आज से 250 वर्ष पूर्व इसे लिखा गया। दरअसल इसे घोष पाक ने अपने हाथों से ही लिखा था। 18 वर्ष की आयु में उन्होंने कुरान लिखना प्रारंभ किया। जब वे 65 वर्ष क हुए तो यह पूरा हो पाया। कुरान के पन्नों पर फारसी से तर्जुमा किया गया है

जबकि कुरान अरबी भाषा में लिखा गया है। दरअसल स्याही के तैर पर आंखों में लगाने वाले काजल का उपयोग किया गया जो कि मोर पंख से बना हुआ था। इसके कागज को भी घोष पाक ने अपने हाथों से तैयार किया था। इस कुरान का पठन शब ए बारात के अवसर पर हुआ। जिसे सुनने के लिए बड़े पैमाने पर लोग मौजूद थे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -