जानिए क्यों मनाया जाता है World Heritage Day?...

दुनियाभर में 18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस (World Heritage Day) मनाया जाता है. इस दिन को दुनियाभर की पुरानी स्मारकों और ऐतिहासिक दृष्टी से महत्वपूर्ण स्थलों के लिए ख़ास माना जाता है. विश्व धरोहर क्या है..? दरअसल में विश्व धरोहर या विरासत सांस्कृतिक महत्व और प्राकृतिक महत्व के वह स्थल होते है जो बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं. कई ऐसे स्थल जो ऐतिहासिक और पर्यावरण के रूप में महत्वपूर्ण माने जाते हैं. इन स्थलों का अंतर्राष्ट्रीय महत्व भी होता हैं और साथ ही इन्हे बचाने के लिए लगातार प्रयास किए जाते हैं.

ये धरोहर हमारी संस्कृति को दर्शाती हैं और हमारे इतिहास के बारे में जानकारी देती हैं. हमारे इतिहास या हमारी विरासत को बचाने के लिए कदम उठाने जरुरी हैं. दुनियाभर में कुल 1052 विश्व धरोहर स्थल हैं जो बहुत ही महत्वपूर्ण हैं. इनमे से 814 सांस्कृति, 203 प्राकृतिक और 35 मिश्रित स्थल हैं. अब बात करे भारत की तो भारत में कुल 27 सांस्कृतिक, 7 प्राकृतिक और 1 मिश्रित धरोहर हैं कुल मिलाकर भारत में 35 विश्व धरोहर स्थल हैं जिनकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी हैं.

विश्व धरोहर के रूप में मान्यता प्राप्त स्थलों के महत्व को समझने के लिए, उनकी सुरक्षा के लिए, उनके संरक्षण के लिए, उसके प्रति जागरूकता फैलाने के लिए इस विश्व धरोहर दिवस (वर्ल्ड हेरिटेज डे) को मनाया जाता हैं.

कोरोना महामारी को लेकर इस ​देश के निशाने पर आया चीन

संयुक्त राष्ट्र ने जताई हज़ारों बच्चों की मौत होने की आशंका, बताई ये वजह

कोरोना से सबसे अधिक मौतें अमेरिका में, फिर क्यों अपना देश खोलना चाहते है ट्रम्प ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -