विश्व ह्रदय दिवस आज, जानिए इसे मानाने का उद्देश्य और इतिहास

नई दिल्ली: प्रति वर्ष 29 सितंबर को World Heart Day मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य है, ह्रदय रोगों के खिलाफ लोगों को जागरूक करना, क्योंकि पूरे विश्व में प्रति वर्ष लाखों लोग हृदय रोग से अपनी जान गंवाते हैं। वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन द्वारा वर्ल्ड हार्ट डे मनाने की शुरुआत की गई थी, ताकि लोगों को हृदय रोगों के खिलाफ जागरूक किया जा सके। वर्ष 2000 में पहली दफा वर्ल्ड हार्ट डे मनाया गया। यह एक अंतर्राष्ट्रीय अभियान है जिसके जरिए लोगों को यह बताया जाता है कि हृदय रोग (CVD) से कैसे बचा जा सकता है। 

विश्व ह्रदय दिवस दिवस की स्थापना पहली दफा 1999 में वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन (World Heart Federation - WHF) ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के सहयोग से की थी। जिसके बाद इसके वार्षिक आयोजन का विचार 1997-2011 तक WHF के अध्यक्ष एंटोनी बेयस डी लुना के मन में आया। शुरुआत में ये दिन सितंबर के अंतिम रविवार को मनाया जाता था, जिसका पहला उत्सव 24 सितंबर, 2000 को मनाया गया था।

बता दें कि प्रति वर्ष विश्व हृदय दिवस को एक थीम के तहत मनाया जाता है। इस साल 2022 में विश्व हृदय दिवस की थीम "यूज हार्ट फॉर एवरी हार्ट" (Use Heart for Every Heart) रखी गई है। विश्व हृदय दिवस की स्थापना के बाद से प्रति वर्ष, विश्व स्तर पर हृदय स्वास्थ्य जागरूकता अभियान को बढ़ावा देने के लिए एक विशिष्ट विषय के इर्द गिर्द ये दिन मनाया जाता है। इस के साथ स्लोगन, इस दिवस का उद्देश्य, कुछ कॉमन मिथक और शुभकामना संदेश भी दिए जाते हैं।

क्या होता है जीरो फेस्टिवल ? देश-विदेश से लोग इसे देखने आते हैं अरुणाचल

देश को मिला नया CDS, जानिए कौन हैं लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ?

जम्मू कश्मीर में 8 घंटे के अंदर दो धमाके, क्या PFI बैन से बौखला गए आतंकी ?

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -