भारत बायोटेक की Covaxin को जल्द मंजूरी देगा WHO

नई दिल्ली: विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने उम्मीद जताते हुए कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) जल्द ही भारत बायोटेक की कोरोना वायरस वैक्सीन कोवैक्सिन (Covaxin) को स्वीकृति देगा. भुवनेश्वर में प्रेस वालों से बात करते हुए, हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि, यह प्रशासनिक या सियासी प्रक्रिया नहीं है, बल्कि WHO की एक तकनीकी प्रक्रिया है. 

उन्होंने कहा कि तकनीकी समिति कोवैक्सिन को बनाने वाली भारत बायोटेक द्वारा किए गए सबमिशन का मूल्यांकन करेगी. मुझे विश्वास है कि WHO जल्द से जल्द कोवैक्सिन को मंजूरी दे देगा. भारत के राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान की तारीफ करते हुए विदेश सचिव ने कहा की, कुछ ही दिनों में हम एक बिलियन वैक्सीनेशन के आंकड़े तक पहुंच जाएंगे. हमने यह काफी जल्दी किया है. मुझे यकीन है कि लोग हैरान होंगे कि हमने 2.5 करोड़ लोगों को एक दिन में वैक्सीन की डोज़ लगा दी, जो ऑस्ट्रेलिया की पूरी आबादी के बराबर है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को कहा कि भारत बायोटेक की कोरोना वायरस वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ को इमरजेंसी इस्तेमाल की लिस्टिंग (EUL) के लिए अगले सप्ताह WHO और विशेषज्ञों के एक समूह की मीटिंग होने वाली है. इस दौरान कोवैक्सीन के जोखिम/फायदों का आंकलन किया जाएगा और उसके बाद मंजूरी को लेकर अंतिम फैसला लिया जाएगा. इससे पहले 5 अक्टूबर को WHO ने Covaxin को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी देने के फैसले को अगले हफ्ते तक बढ़ा दिया था.

आज फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का नया भाव

अगले वित्तीय संकट का कारण बन सकती है बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी

अमित शाह ने किया नेशनल फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी का शिलान्यास

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -