World Diabetes Day: डायबिटीज की जंग में जीतती जिंदगियां

आज के समय में जहा पुरे विश्व सहित हमारे देश को कई प्रकार की बीमारियों ने अपनी चपेट में ले रखा है. ऐसे में डायबिटीज यानि की मधुमेह भी एक ऐसी बीमारी है, जिससे हर दिन लाखो लोग जंग लड़ रहे है. किन्तु उनकी यह जंग सिर्फ बीमारी तक सिमित न रहकर समाज के लिए भी एक सूचक व जागरूकता बनकर खड़ी हुई है. जिससे हमे इस जंग में डायबिटीज को हराकर एक नयी जिंदगी के कदम लोगो की तरफ बढ़ाना है. विश्व मधुमेह दिवस या वर्ल्ड डायबिटीज डे को 14 नवंबर को पुरे विश्व भर में मनाया जाता है. विश्‍व मधुमेह दिवस को अंतरराष्‍ट्रीय मधुमेह संघ और विश्‍व स्वास्‍थ्‍य संगठन द्वारा वर्ष 1991 में शुरू किया गया था. जिसमे इसके प्रति लोगो में जागरूकता का सन्देश दिया जाता है.

क्या है डायबिटीज - मधुमेह या या डायबिटीज जिसे चीनी का रोग भी कहते है, एक प्रकार की खतरनाक बीमारी है . यह आमतौर पर हमारे शरीर में अग्नाशय द्वारा इंसुलिन का स्त्राव कम हो जाने के कारण होती है. जिसमे रक्त ग्लूकोज स्तर बढ़ने के साथ मरीजों में रक्त कोलेस्ट्रॉल, वसा के अवयव भी असामान्य हो जाते हैं. जिसका सबसे ज्यादा प्रभाव आँखों, गुर्दों, स्नायु, मस्तिष्क, हृदय पर देखा जा सकता है. 

डायबिटीज के लक्षण-  

इस रोग में थकान, कमजोरी, पैरों में दर्द होने जैसी समस्या दिखाई देती है.
पैर का घाव या शरीर में होने वाले घाव का ठीक ना होना, साथ ही गैंग्रीन का रूप ले लेना. 
बार बार  पेशाब का आना और भूख लगना.
रोगी का मुँह खुश्क रहना तथा अत्यधिक प्यास लगना.
अधिक भोजन करने पर भी दुर्बल होते जाना.
वजन का कम हो जाना.
आँखों में देखने का परिवर्तन होना.
जननांगों में खुजली और संक्रमण.
हृदय आघात, मस्तिष्क आघात आदि का होना इसके प्रमुख लक्षण है.

बचाव के उपाय- 

नियमित शुगर स्‍तर की जांच अवश्य कराए.
घावों को कभी भी अनदेखा न करे 
व्यायाम करें और अपना वजन नियंत्रित रखें.
 किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर डॉक्टर से संपर्क करे 

देखा जाये तो डायबिटीज यानी शुगर की बीमारी दुनियाभर में फैली हुई है. वही आंकड़ो की बात करे तो हर 5  में से 4 लोग इस बीमारी का शिकार हैं. इसका सबसे बड़ा कारण हमारा लाइफस्टाइल है. खाने पिने की चीजो पर ध्यान न देना भी एक बड़ा कारण है. अगर खाने-पीने की आदतों को थोड़ा सुधार लिया जाए तो काफी हद तक इस बीमारी को कंट्रोल किया जा सकता है. वही अपनी नियमित आदतों पर भी ध्यान दे.

देखा जाये तो डायबिटीज एक असाध्य रोग है. किन्तु इसके मरीजो में जागरूकता हमारा प्यार और सही दिशा निर्देश उन्हें इस बीमारी से उबार सकता है. जिसमे वे अपने रोग का उपचार कराकर उस पर बाध्यता हासिल कर सकते है. आपको चाहिए की आप डायबिटीज के रोगी के प्रति अपनी पूर्ण भावना रखे. तथा हर सम्भव उनकी मदद करने को तत्पर रहे. क्योकि डायबिटीज एक जंग है. जिसमे हर जिंदगी को जितना है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -