World Cup : श्रीलंका ने इंग्लैंड को 9 विकेट विकेट से हराया

Mar 01 2015 04:52 PM
World Cup : श्रीलंका ने इंग्लैंड को 9 विकेट विकेट से हराया
style="text-align: justify;">कुमार संगकारा (नाबाद 117) और लाहिरू थिरिमान्ने (नाबाद 139) ने दूसरे विकेट के लिए 212 रनों की साझेदारी करते हुए श्रीलंका को रविवार को वेस्टपैक स्टेडियम में हुए आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-ए मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ नौ विकेट से जीत दिला दी। यह चार मैचों में श्रीलंका की तीसरी जीत जबकि इंग्लैंड की इतने ही मैचों में तीसरी हार है। श्रीलंका ने 47.2 ओवरों में एक विकेट गंवाकर जीत के लिए जरूरी रन बना लिए। उसके लिए विश्व कप में शतक लगाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज थिरिमान्ने ने 143 गेंदों का सामना कर 13 चौके और दो छक्के लगाए जबकि इस विश्व कप में अपना दूसरा और कुल तीसरा शतक लगाने वाले संगकारा ने 86 गेंदों पर 11 चौके और दो छक्के लगाए। थिरिमान्ने ने 25 साल 174 दिन की उम्र में शतक लगाया। इससे पहले यह रिकार्ड उपुल थरंगा के नाम था, जिन्होंने 26 साल 36 दिन की उम्र में जिम्बाब्वे के खिलाफ विश्व कप में शतक लगाया था। संगकारा ने अपनी इस पारी के दौरान 70 गेंदों पर शतक पूरा किया। 

श्रीलंका ने तिलकरत्ने दिलशान (44) के रूप में एकमात्र विकेट गंवाया। दिलशान को 100 के कुल योग पर मोइन अली ने इयोन मोर्गन के हाथों कैच कराया। दिलशान ने 55 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाए। पूल-ए में इंग्लैंड दो अंकों के साथ सात टीमों की तालिका में छठे स्थान पर है। उसने अब तक चार मैच खेले हैं और तीन मैच हारे हैं। एक में उसकी जीत हुई है। दूसरी ओर, श्रीलंका ने चार में से तीन मैच जीतकर छह अंक जुटाए हैं। वह न्यूजीलैंड के बाद इस तालिका में दूसरे स्थान पर है। न्यूजीलैंड ने अपने सभी चार मैच जीते हैं। इससे पहले, जोए रूट (121) के तेज शतक की बदौलत इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट गंवाकर 309 रन बनाए। रूट के अलावा इयान बेल ने 49, जोस बटलर ने नाबाद 39, जेम्स टेलर ने 25 और कप्तान इयोन मोर्गन ने 27 रन बनाए। श्रीलंका की ओर से लसिथ मलिंगा, सुरंग लकमल, एंजेलो मैथ्यूज, तिलकरत्ने दिलशान, रंगना हेराथ और थिसिरा परेरा ने एक-एक सफलता हासिल की। श्रीलंकाई टीम ने 18 रन अतिरिक्त के तौर पर दिए। 

इंग्लैंड की शुरूआत अच्छी रही। बीते मैच में शतक लगाने वाले मोइन अली (15) और बेल ने पहले विकेट के लिए 62 रनों की साझेदारी की। इसके बाद उसने हालांकि गैरी बैलेंस (6) का विकेट सस्ते में गंवा दिया। बैलेंस 71 के कुल योग पर आउट हुए। बेल का विकेट 101 के कुल योग पर गिरा। बेल ने 54 गेंदों पर सात चौके लगाए। बेल और रूट ने तीसरे विकेट के लिए 30 रन जोड़े। बेल के आउट होने के बाद इंग्लैंड के लिए मोर्गन और रूट ने 60 रनों की साझेदारी की। मोर्गन का विकेट 161 के कुल योग पर गिरा और फिर टेलर तथा रूट ने पांचवें विकेट के लिए 98 रन जोड़ते हुए टीम को 250 के पार पहुंचाया। टेलर 259 और रूट 265 के कुल योग पर आउट हुए। रूट ने 108 गेंदों का सामना कर 14 चौके और दो छक्के लगाए। बटलर और क्रिस वोक्स (नाबाद 9) ने इसके बाद सातवें विकेट के लिए नाबाद 44 रनों की साझेदारी करते हुए इंग्लैंड को 300 रनों के पार पहुंचाने का काम किया।