कैदियों का कारनामा वर्ल्ड रिकॉर्ड में हो सकता है शामिल

छत्‍तीसगढ़ में जहां नक्सलियों का आतंक छाया रहा है, वहीं यहाँ के कांकेर की जिला जेल में नक्सली मामलों में बंद कैदियों ने देशभक्ति के जज़्बे से जुड़ा एक ऐसा अनोखा कारनामा किया है, जिससे गोल्‍डन बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में इनका नाम आ सकता है। यहाँ के कैदियों ने राष्ट्रगीत 'वन्देमातरम' को वुडन आर्ट के माध्यम से लकड़ी पर उकेरा है। यह वुडन आर्ट 38 फीट लम्बा और 22 फीट चौड़ा है। इसे 26 जनवरी के दिन नरहरदेव मैदान में कार्यक्रम के दौरान आम जनता के बीच प्रदर्शित किया जाएगा.

लगभग 1 महीने तक 10 बंदियों ने अथक परिश्रम से इस आर्ट को तैयार किया है. जेलर सतीश चंद्र भुवार्य का कहना है कि “इन कैदियों के लिए यह दूसरा जीवन जीने जैसा है. इनका ये काम आत्मविश्वास के साथ-साथ देशभक्ति से लबरेज है. वुडन आर्ट जैसी कला को सीखकर इन कैदियों के जीवन में व्यापक बदलाव आया है. अब ये कैदी स्वावलंबी बन चुके हैं.”

वुडन आर्ट बनाने वाले एक कैदी राकेश कुमरे का कहना है कि अब वह बाहर जाकर वुडन आर्ट की दुकान खोलना चाहता है, जिससे परिवार और देश की सेवा हो सके. गोल्डन बुक ऑफ रिकार्ड्स के मेम्बर नवल किशोर राठी का कहना है कि केवल एक महीने में कड़ी मेहनत से कैदियों ने जो कारनामा कर दिखाया है, उससे वे काफी प्रभावित हैं. कैदियों द्वारा किए गए इस प्रयास को देशभक्ति की अलग तस्वीर कह सकते हैं.

नक्सलियों से लड़ने वाले जवान अब किससे लड़ रहे

यूपी पुलिस को घायलों की ज़िंदगी से प्यारी गाड़ी

कोटखाई गैंगरेप मर्डर- जैदी की ज़मानत याचिका रद्द

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -