प्रेगनेंसी के समय महिलाएं खुद को इस तरह रखें फिट

शरीर को अलग अलग मुद्राओं में मोड़ना या असंभव लगने वाली क्रियाएं करना ही योग नहीं है। योग में व्यक्ति का मस्तिष्क और शरीर कुछ इस तरह मिलते हैं जिससे दिमागी कसरत तो होती ही है साथ ही शरीर को बिना कोई नुकसान पहुंचे अत्यंत लाभ भी मिलते हैं। 

गर्भावस्था में स्वस्थ रहने का सबसे आसान तरीका है योग को अपना जाए। नियमित रूप से योग करने वाली गर्भवती महिलाओं को थकान कम होती है तनाव दूर होता है साथ ही मांसपेशियों में खिंचाव के कारण लचीलापन भी आता है। 
 
इतना ही नहीं बेहतर रक्तसंचार पाचन और स्नायुतांपर नियंत्रण रहता है। इसके कारण पीठ में दर्द नींद न आना पैरों में दर्द अपच जैसे लक्षणों में आराम मिलता है। हालांकि गर्भवती महिलाओं को कुछ भी शुरू करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

'बंगाल पर कब्ज़ा करने की कोशिश कर रहे गुजराती..', मोदी-शाह पर ममता का हमला

अयोध्या में 4 साल की बच्ची से युवक ने किया दुष्कर्म, हुआ गिरफ्तार

शादी से किया इंकार, तो युवक ने कर डाली महिला लिव-इन पार्टनर की हत्या

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -