सऊदी अरब में महिलाओं को मिला मतदान का अधिकार

सऊदी अरब : महिलाओं के शोषण के मामले में और उन्हें पुरुषों के बराबर अधिकार ने देने के कारण अक्सर विवादों में रहने वाले सऊदी अरब में अब महिलाए भी पहली बार को मतदान कर सकेंगी. इतना ही नहीं इस साल के अंत में होने वाले निकाय चुनाव में चुनाव भी लड़ सकेंगी. सऊदी अरब में महिलाओं को भी मतदान का अधिकार दिया है इसके बाद से ही यहाँ मतदाता सूची में महिलाओं के रजिस्ट्रेशन का काम शुरू हो गया है. बता दें कि इस साल के अंत में सऊदी अरब में निकाय चुनाव होने हैं. इस अधिकार के साथ ही अब महिलाए इन चुनावों में चुनाव भी लड़ सकेंगी.

जमाल अल-सादी और सफिनाज अबू अल-शामत मतदाता सूची में शामिल होने वाली देश की पहली महिलाएं बनीं. दोनों ने रविवार को मक्का और मदीना के चुनाव कार्यालय जाकर सूची में अपना नाम जुड़वाया. 2011 में किंग अब्दुल्ला ने महिलाओं के चुनाव में शामिल करने की मंजूरी दी थी, लेकिन इसके 4 साल बाद महिलाओं को मतदान का अधि‍कार मिल रहा है.

सामाजिक संगठनों ने किया स्वागत

सऊदी सरकार के इस निर्णय का सभी सामाजिक संगठनों ने स्वागत किया है. एमनेस्टी इंटरनेशनल के केरन मिडिलटन ने कहा, 'लंबे समय से लटका हुआ यह फैसला हर्ष का विषय है, लेकिन सऊदी अरब में महिला और पुरुषों को सामान बनाने के लिए यह एक छोटा सा कदम है.'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -