बॉलीवुड फिल्मों के यह शानदार डायलॉग्स नारी शक्ति को करते हैं उजागर

बॉलीवुड में हर तरह की फ़िल्में बनाई जाती है और यहां कई ऐसी भी फ़िल्में बनी है जो वीमेन ओरिएंटेड थी. इन फिल्मों को काफी सराहना भी मिली है. खासकर अगर ऐसी फिल्मों के डायलॉग्स की बात की जाए तो ये भी खुद लोक्रप्रिय हुए थे. चाहे वह फनी हो या सीरियस लेकिन इसे लोगों ने खूब पसंद किया है. आज इंटरनेशनल वूमेंस डे यानी अंतराष्ट्रीय महिला दिवस है और इस खास उपलक्ष पर हम आपको कुछ ऐसे खास बॉलीवुड के डायलॉग्स बताने जा रहे हैं जो महिलाओं पर आधारित है.

फिल्म : ओम शान्ति ओम

एक चुटकी सिन्दूर की कीमत तुम क्या जानो रमेश बाबू...

ईश्वर का आशीर्वाद होता है...

एक चुटकी सिन्दूर, सुहागन के सर का ताज होता है...

एक चुटकी सिन्दूर, हर औरत का ख्वाब होता है...

एक चुटकी सिन्दूर.

फिल्म : मर्दानी

मुझे भेड़ समझकर बेचोगे,

तो तेरी नस्लों को मिटा दूंगी.

फिल्म : चेन्नई एक्सप्रेस 

हम लोग जहां पे खड़ी होती ना, स्टेशन वहीं से शुरू होती.

फिल्म : द डर्टी पिक्चर

जब ज़िन्दगी एक बार मिली है, तो दो बार क्यों सोचें.

ये सभी डायलॉग्स आज भी लोगों की जुबान पर चढ़े हुए हैं. इसके अलावा भी कई ऐसे डायलॉग्स है जो नारी शक्ति को उजागर करते हैं और महिलाओं को प्राथमिकता देते हैं. वैसे बॉलीवुड की ही बात करे तो आज के समय में तो यहां कई ऐसी एक्ट्रेस हैं जो अभिनेताओं पर भारी पड़ रही है.

इस एक्टर ने छोड़ी थी 'केसरी' जानिए क्या था कारण

अपनी गर्लफ्रेंड के साथ लिवइन में रह रहे अर्जुन रामपाल, ले लिया पर्सनल फ्लैट

सौतेली बहन जाह्नवी को अर्जुन ने इतने खास अंदाज़ में दी जन्मदिन की बधाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -