सलमान के बड़बोलेपन पर महिला आयोग का नोटिस, कहा सलमान है तो कुछ भी बोलेंगे

मुंबई। अभिनेता सलमान खान के बहके बोल पर महिला आयोग ने उन्हें नोटिस थमा दिया है। महिला आयोग ने उनसे सात दिनों के भीतर जवाब देने को कहा है। सलमान के बचाव में उनके पिता सलीम खान सामने आए है। सलीम खान ने ट्वीट कर कहा है कि जाहिर तौर पर सलमान के बयान गलत है।

लेकिन इसके पीछे उसकी मंशा गलत नहीं थी। राष्ट्रीय महिला आयोग की प्रमुख ललिता कुमार मंगलम ने कहा कि यह बेहद दुख की बात है, सलमान खान है. इसका मतलब वो कुछ भी थोड़ी बोल सकते है। आयोग ने सलमान को एक पत्र लिखा है, जिसमें उनसे इस बयान का कारण पूछा गया है।

बीजेपी सांसद शायना एनसी ने ट्वीट कर कहा कि मुमकिन है कि गलती से सलमान की जुबान फिसली हो, खैर कारण जो भी हो उन्हें माफी मांगनी चाहिए। एक इंटरव्यू के दौरान सलमान ने कहा कि जब वो शूटिंग पूरी करके बाहर आते है, तो उन्हें रेप की शिकार हुई महिला जैसा प्रतीत होता है।

इंटरव्यू में सलमान अपने आने वाली मूली सुल्तान के बारे में बातें कर रहे थे। तभी उन्होने कहा कि सुल्तान की शूट के बाद जब वो बाहर आते थे, तो उन्हें एक रेप की शिकार महिला जैसा लगता था, क्यों कि वो सीधे चल भी नहीं पाते थे। उनके इस बयान का सोशल मीडिया पर जमकर विरोध हो रहा है।

ईद पर रिलीज होने वाली इस मूवी में सलमान एक रेसलर की भूमिका में है। उन्होने कहा कि शूटिंग के दौरान 6 घंटो में काफी मेहनत करनी होती थी, जो बहुत ही मुश्किल था, क्यों कि 120 किलो के पहलवान को अलग-अलग एंगल से उठाना पड़ता था। कई बार तो उन्हें जमीन पर पटखनी देनी होती थी।

रिंग में ऐसा एक बार नहीं, कई बार करना पड़ता था। ताकि रियल फाइट का फील आए। शॉट के बाद जब मैं रिंग से बाहर निकलता था, तो मुझे रेप की शिकार हुई महिला की तरह महसूस होता था। मैं सीधा नहीं चल पाता था। शूटिंग के बाद भी ट्रेनिंग सेशन के लिए जाना पड़ता था।

सोशस मीडिया पर सलमान का विरोध कर रहे फैंस ने उनके इस बयान को हॉरिबल कहा है। एक यूजर बीना ने कहा है कि खुद को एक रेप विक्टिम से कंपेयर करना..। यह इंसान अपना मानसिक संतुलन खो बैठा है। एक अन्य यूजर ने कहा है कि सलमान अपने शूटिंग शेड्यूल को रेप्ड वुमन से कंपेयर कर रहे है, क्या यह जोक्स से भी बुरा नहीं है बॉलीवुड।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -