पति से लड़कर मायके के लिए रवाना हुई महिला, पहुँच गई कोठे पर और फिर...

Feb 06 2019 02:20 PM
पति से लड़कर मायके के लिए रवाना हुई महिला, पहुँच गई कोठे पर और फिर...

हाल ही में अपराध का एक मामला उत्तर प्रदेश के आगरा से सामने आया है. इस मामले में जिस्म के दलालों के कैद में फंसे अपने 4 साल के बेटे की जिंदगी की खातिर एक मां ने खुद को इस अंधेरी दुनिया में ढकेल दिया और जो भी हुआ वह सभी को हैरान कर देगा. वहीं इस मामले में कई बार उसने खुद को मार डालने के बारे में सोचा, लेकिन हर बार बेटे को सुरक्षित बाहर निकालने की उम्मीद ने उसे जिंदा रखा. इस मामले में ऑपरेशन रेड लाइड एरिया के तहत दो हफ्ते पहले छुड़ाई गई इस महिला ने जुर्म की इस दुनिया का रोंगटे खड़े करने देने वाले सच बताया जिसे सुनने के बाद सभी के होश उड़ गये.

आपको बता दें कि यह मामला पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना जिले का है. जहाँ इस महिला का 5 महीने पहले पति से झगड़ा हुआ था और उसके बाद 4 साल के बेटे को लेकर वो मायके निकल गई. वहीं रेलवे स्टेशन पर जिस्म के दलालों ने उसे अपने चंगुल में फंसा लिया और दिल्ली जाने वाली ट्रेन में उसे अपनी एक महिला साथी के साथ बिठा दिया. वहीं वहां पहुंचने के बाद मां-बेटे को रेड लाइट एरिया ले गए और कुछ दिन बाद महिला को समझ में आ गया कि वह गलत जगह पर है जहाँ से उसने भागने की कोशिश की लेकिन ऐसा हो ना सका. उसके बाद दलालों ने उसके बेटे को कब्जे में लेकर उसे दूसरी जगह भेज दिया जहाँ से महिला को टॉर्चर करना शुरू किया गया. वहीं किसी तरह पुलिस ने उसके मासूम बेटे को बरामद कर लिया और उस महिला को भी दलाओं के चंगुल से छुड़वाकर उसके माता पिता के पास भेज दिया.

इस मामले में महिला ने बताया कि तीन से 5 सौ तक रुपए देकर उसके साथ संबंध बनाए जाते थे. वहीं इस मामले में पुलिस ने बताया कि उन्होंने कोलकाता, दिल्ली, गाजियाबाद, आगरा समेत दस जिलों के सौ से ज्यादा कोठे खंगाले और वहां वह कस्टमर बनकर जाते थे. इस कारण से महिला को ढूंढने में उन्होंने लाखों खर्च कर दिए.

पति बनता था नौकरानी से अवैध सम्बन्ध, एक दिन पत्नी ने देख लिया और फिर...

गुजरात में दर्दनाक हादसा चार सहेलियों ने नदी में छलांग लगाकर दी जान

युवक के साथ रह रही महिला ने बच्चों के साथ कर लिया ऐसा काम