अक्ल विरासत में नहीं मिलती - अरुण जेटली

अक्ल विरासत में नहीं मिलती - अरुण जेटली
Share:

नई दिल्ली : राहुल गांधी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बार -बार आक्षेप लगाए जाने के बाद केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने उन पर पलटवार करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष की अक्ल पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि यह पिता से विरासत में नहीं मिलती, बल्कि ये लगातार अध्ययन से ही हासिल की जा सकती है.

बता दें कि जेटली ने एक फेसबुक पोस्ट में कांग्रेस को विचारधारा विहीन पार्टी बताते हुए कहा कि कांग्रेस का जूनून सिर्फ पीएम नरेंद्र मोदी के लिए है.जेटली ने अपनी फेस बुक पोस्ट में कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के 2008 से 2014 के सत्ता काल में 15 बड़े लोन डिफाल्टरों को अंधाधुंध राशि कर्ज में देने की बात इसलिए कही क्योंकि राहुल गाँधी ने मुद्रा योजना की आलोचना कर ये आरोप लगाया था कि उसने बड़े कॉरपोरेट घरानों के करीब 2.5 लाख करोड़ रुपये के कर्ज माफ कर दिए हैं.

उल्लेखनीय है कि जेटली ने राहुल गाँधी को गोबेलियन परंपरा को पसंद करने वाला बताते हुए कहा कि एक राष्ट्रीय दल के अध्यक्ष का बैंक के कामकाज के बुनियादी तरीके को भी नहीं समझ पाना पूरे देश के लिए चिंता का विषय होना चाहिए . जेटली ने राहुल गाँधी के कोकाकोला के संस्थापक को शिकंजी बेचने वाला बताने के बयान पर भी तंज कसते हुए लिखा, ‘द डिस्कवरी ऑफ इंडिया’ लिखने वाले के महान नाती ने अपनी परंपरागत त्रुटियों के साथ एक दिन देश को ‘द रिडिस्कवरी ऑफ कोकाकोला’ की महान खोज दे दी.

यह भी देखें

कांग्रेस की इफ्तार पार्टी में उड़ाया मोदी का मजाक

राहुल गांधी की इफ़्तार पार्टी निशाने पर विपक्ष एकता मिशन

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -