संसद में नोट मचाएगा शोर, आज से प्रारंभ हो रहा है शीतकालीन सत्र

नई दिल्ली : केंद्र सरकार द्वारा 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट बंद किए जाने के निर्णय ने देशभर में हंगामा मचा दिया है। कुछ लोग बैंक की कतार में लगे हुए हैं। तो दूसरी ओर संसद का शीतकालीन सत्र आज से प्रारंभ होने जा रहा है। इस सत्र के हंगामाखेज रहने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि विपक्ष सरकार को नोटबंदी के फैसले पर घेरेगा। हो सकता है कि संसद का प्रथम दिन वाॅकआउट और सदन स्थगन के नाम रहे। 500 और 1000 के नोट बंद करने के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालेगी और राष्ट्रपति से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपेगी।

ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार के लिए कुछ मुश्किलें सामने आ सकती हैं। गौरतलब है कि मंगलवार को कांग्रेस के नेताओं ने सरकार द्वारा निमंत्रित की गई सर्वदलीय बैठक से पहले अपनी बैठक की। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बैठक की अध्यक्षता की।

इस बैठक में संसद में कांग्रेस के उठाए जाने वाले कदमों और नोटबंदी को लेकर कांग्रेस द्वारा उठाए जाने वाले सवालों पर चर्चा की गई। दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विभिन्न दलों से नोटबंदी का समर्थन करने की अपील सर्वदलीय बैठक में की थी।

माना जा रहा है कि संसद के सत्र के प्रारंभ होने के पहले भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विभिन्न दलों से सहयोग की उम्मीद करेंगे और सभी से नोटबंदी के मसले पर शांति बनाए रखने की बात कहेंगे। गौरतलब है कि सपा, बसपा, कांग्रेस, आप, जेडीयू, झामुमो समेत कई दलों द्वारा सरकार के इस निर्णय का विरोध किया गया है। दूसरी ओर गठबंधन सरकार में शामिल शिवसेना भी सरकार के विरोध मेें है।

प्रेस दिवस के समारोह में शामिल होंगे PM मोदी

मोदी ने पिलाई ईमानदारों को मीठी चाय

मोदी जी ने साधे 1 तीर से 15 निशाने

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -