बच्चों की कोरोना वैक्सीन के लिए अभी करना पड़ेगा इंतज़ार, DCGI से कोवैक्‍सीन को मंजूरी मिलनी बाकी

नई दिल्ली: बच्चों के लिए भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा निर्मित कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन (COVAXIN) को DCGI से हरी झंडी मिलने में अभी कुछ और वक़्त लग सकता है. सूत्रों ने इस संबंध में जानकारी दी है. सूत्रों का कहना है कि Covaxin का डेटा इवेलुएट किया जा रहा है. ऐसे में DCGI से वैक्सीन को मंजूरी लेने के लिए प्रतीक्षा करना पड़ सकती है.

वहीं खबर ये भी है कि भारत बायोटेक की Covaxin कनाडा और अमेरिका में 2 से 18 वर्ष के बच्चों को लग सकती है. इसके लिए भारत बायोटेक की सहयोगी ओक्यूजेन इंक ने कनाडा और अमेरिकी प्राधिकरण के आधिकारियों से अनुमति मांगी है. यदि अमेरिका और कनाडा इसकी मंजूरी दे देता है, तो भारत बायोटेक की कोवैक्सिन का उपयोग इन दोनों देशों में भी होने लगेगा. इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के तकनीकी परामर्शदाता समूह (Technical Advisory Group) ने Covaxin को आपातकालीन इस्तेमाल सूची (ईयूएल) में शामिल कर लिया था. WHO ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए कोवैक्सिन के आपातकालीन इस्तेमाल को स्वीकार कर लिया था.

WHO की स्वीकृति मिलने के बाद अब कोवैक्‍सीन लगवा चुके लोग बिना रोक-टोक विदेश यात्रा कर सकेंगे. कोवैक्‍सीन को छोड़कर अब तक 6 टीकों को WHO से हरी झंडी मिल चुकी है. इसमें फाइजर/बायोएनटेक की कोमिरनेटी, एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड, जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन, मॉडर्न की MRNA-1273, सिनोफार्म की बीबीआईबीपी-कोरवी और सिनोवैक की कोरोनावैक शामिल है.

इस दिन पीएम मोदी करेंगे नोएडा एयरपोर्ट का शिलान्यास

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने नोटबंदी को कहा ' आपदा '

नेशनल कैंसर डे पर माधुरी दीक्षित के बेटे ने किया दिल छू लेने वाला काम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -