इन वजहों से महिलाएं करवाती हैं गर्भपात

इन वजहों से महिलाएं करवाती हैं गर्भपात

लगभग हर लड़की का सपना होता हैं कि वो माँ बने, उसकी गोद में भी एक हस्त खेलता नन्हा बच्चा खेले कूदे. लेकिन कभी कभी परिस्थितयां ऐसी आजाती हैं जिसके चलते महिलाओं को इन मासूमों को इस दुनियां में आने से पहले ही मारना पड़ जाता हैं. आज हम आपको कुछ ऐसी ही वजहों के बारे में बताएंगे जिनकी वजह से महिलाएं गर्भपात करवा लेती हैं. 

1. घर वालों का दबाव:

आज की आधुनिक दुनिया में भी कुछ लोग ऐसे हैं जिन्हे लड़की नहीं सिर्फ लड़के की चाह होती हैं. ऐसे में जब सोनोग्राफी से उन्हें पता चलता हैं कि उनकी बहू या पत्नी के पेट में लड़की हैं तो वह उस पर गर्भपात का दबाव डालते हैं. जो कि पूरी तरह से गलत और गैरकानूनी हैं. 

2. अनचाहा गर्भ:

कई बार प्रेमी जोड़े जोश में आकर होश खो बैठते हों और कंडोम का उपयोग नहीं करते. लेकिन जब उन्हें गर्भ की खबर मिलती हैं तो वो इस अनचाहे गर्भ को गिराना चाहते हैं. 

3. शादी के पहले का गर्भ:

आज भारत और उसमे रहने वाले लोगो की सोच इतनी भी विकसित नहीं हुई कि यहाँ एक कुवांरी सिंगल मदर बिना समाज के ताने सुने रह सके. इसलिए कई बार लड़कियां चाह कर भी गर्भ नहीं रख पाती. 

4. ज्यादा बच्चो का होना:

कई पति पत्नी जोड़े पहले से ही तय कर चुके होते हैं कि उन्हें अपनी जिंदगी में कितने बच्चे चाहिए इसीलिए जब बिना किसी प्लानिंग के पत्नी को गर्भ हो जाता हैं तो वो उस गर्भ को गिरा देना ही सही समझते हैं.

5. माँ बनाने की इच्छा ना होना:

हालांकि ऐसा बहुत कम होता हैं लेकिन कुछ लड़कियां ऐसी भी होती हों जिन्हे बच्चे पसंद नहीं होते. वह बच्चो को सँभालने और उनकी देख रेख करने के झंझट में नहीं पड़ना चाहती. इसलिए जब उन्हें गर्भ होता हैं तो वो उसे गिरा देती हैं.