विम्बलडन से आखिर क्यों खिलाड़ियों को नहीं मिलेंगे रैंकिंग अंक, सामने आई बड़ी वजह

महिला और पुरूष पेशेवर टेनिस टूर इस वर्ष विम्बलडन के लिए रैंकिंग अंक प्रदान नहीं करेगा क्योंकि ऑल इंग्लैंड क्लब ने यूक्रेन पर हमले की वजह से रूस और बेलारूस के खिलाड़ियों को प्रतिबंधित किया जा चुका है। WTA और ATP ने इस निर्णय का एलान शुक्रवार की रात को किया गया है। फ्रेंच ओपन के शुरू होने से 2 दिन पहले ही यह एलान किया गया था और विम्बलडन एक महीने बाद 27 जून से शुरू होने वाले है। 

तकनीकी रूप से जिसके मतलब होगा कि यह टूर्नामेंट प्रदर्शनी प्रतियोगिता की तरह ही होगा इसमें कोई भी रैंकिंग अंक दाव पर लगे नहीं होने वाली है। फिर भी यह विम्बलडन ही रहेगा जिसकी अपनी ही परंपरा और प्रतिष्ठा है इसमें सभी खिलाड़ी सफेद रंग की ड्रेस में खेलते हैं और जिसमे मिलने वाली लाखों डॉलर की राशि बहुत महत्वपूर्ण होने वाली है। इसलिए उम्मीद है कि जो खिलाड़ी इसके लिये क्वालीफाई करेगा, वह इसमें खेलेगा। 

रूस के खिलाड़ियों को कई खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेने से रोका जा चुका है इसमें फुटबॉल विश्व कप के क्वालीफाइंग प्लेऑफ को भी जोड़ दिया गया है। रूस ने फरवरी में यूक्रेन पर हमला शुरू किया था और बेलारूस में रूस की सहायता से किया गया है। ऑल इंग्लैंड क्लब ने अप्रैल में बोला था कि वह रूस और बेलारूस को अपनी प्रतियोगिता में भाग लेने की अनुमति नहीं देगा जिसकी WTA और ATP सहित कुछ बड़े खिलाड़ियों जैसे गत चैम्पियन नोवाक जोकोविच ने बहुत निंदा भी की थी। 

दिल्ली और मुंबई के मुकाबले से पहले दिनेश कार्तिक का ट्वीट वायरल, MI की जर्सी में दिखा RCB का खिलाड़ी

मुंबई से हारी दिल्ली तो 'बैंगलोर' को होगा फायदा, Head to Head में जानें कौन किस पर भारी

अपनी पुरानी टीम CSK के खिलाफ अश्विन ने मनाया जीत का जश्न, वायरल हो रहा रिएक्शन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -