बच्चों के लिए क्यों 'बड़ा खतरा' बन रहा डेंगू ? जानिए विशेषज्ञों की राय

नई दिल्ली: पूरे देश के कई सूबों में डेंगू का प्रकोप जारी है। अकेले उत्तर प्रदेश में ही पिछले एक महीने में इस बीमारी से कई मौतें हो चुकी हैं। मरने वालों में अधिकतर बच्चे ही हैं। मथुरा और फिरोजाबाद के अतिरिक्त कानपुर, प्रयागराज और गाजियाबाद से तो लगातार डेंगू के केस दर्ज किए जा रहे हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि बच्चे ही सबसे अधिक क्यों संक्रमित हो रहे हैं और उन्हें इस संक्रमण से किस तरह बचाया जा सकता है। 

जानकारों का कहना है कि डेंगू ऐसी बीमारी है, जो किसी को भी हो सकती है। किन्तु इस बार इससे बच्चे अधिक संक्रमित हो रहे हैं। वजह यह है कि बच्चों का प्रतिरक्षा तंत्र, वयस्कों के मुकाबले कमजोर होता है। वर्ष में छह से आठ बार बच्चे श्वसन संबंधी संक्रमण से ग्रसित होते हैं। वहीं, लॉकडाउन खुलने के बाद बड़ी तादाद में बच्चे बाहर आ रहे हैं और बाहर का दूषित भोजन और गंदे पानी का सेवन कर रहे हैं। यही वजह है कि उनमें संक्रमण का खतरा भी सबसे अधिक है। मानसून के बाद कई जगहों पर जल जमाव हो जाता है। ऐसे में डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया जैसी बीमारी तेजी से फैलते हैं। इससे बचने के लिए घर पर पानी इकठ्ठा न होने दें और जहां पर भी पानी जमा जमा होता है उसे प्रतिदिन बदलते रहें। बता दें कि डेंगू और चिकनगुनिया एडीज एजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर साफ पानी में पैदा होता है। वहीं एनोफिलीज मच्छर, मलेरिया फैलने का कारण बनता है, जो गंदे व साफ दोनों तरह के पानी में प्रजनन करने में सक्षम है। 

यदि किसी को तेज बुखार के साथ ही साथ शरीर में दर्द भी हो रहा है। पेट में भी दर्द जैसे लक्षण नज़र आ रहे हैं, तो उसमें डेंगू या अन्य मच्छर जनित बीमारियां होने की आशंका है। इसके अलावा भूख न लगना, शरीर पर चकत्ते पड़ना भी इसके लक्षणों में शामिल हैं। डॉक्टरों का कहना है कि यदि किसी में डेंगू के लक्षण दिखते हैं तो उसे पानी अधिक पीना चाहिए। शरीर में पानी की कमी होने से दिक्कतें बढ़ सकती है। हालांकि, यदि किसी में अधिक लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो उसे सीधे डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

केरल में और भी ज्यादा घातक होता जा रहा है कोरोना, तेजी से बढ़ने लगी मरने वालों की संख्या

जारी हुए पेट्रोल-डीजल के नए दाम, जानिए आज का भाव

टाटा मोटर्स 1 अक्टूबर से बढ़ाएगी वाणिज्यिक वाहनों की कीमतें


 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -