जाने क्यों महिला होना ज्यादा बेहतर है

 

महिलाएं पुरुषों से कई मामलो मे अच्छी होती है पर क्या आप जानती है कि महिला होने के ज्यादा स्वस्थ लाभ होते है जी हां, कुछ हेल्थी बाते सिर्फ  महिलाओ के लिए ही होती है, पर क्या आप जानती है कि महिला होने के अपने स्वस्थ लाभ होते है। लम्बा जीवन, गुड कोलेस्ट्रॉल जैसे फायदे महिलाओं को प्राकृतिक देन होती है लेकिन फिर भी सेहत के प्रति लापरवाह व्यवहार के चलते वह ज्यादा बीमारियों का शिकार होती है। महिलाओं को अपने स्वस्थ के प्रति भी सजग रहना चाहिए। जानिए महिला होना फायदेमंद क्यों है। 

लम्बा जीवन 

महिलाओं पुरुषों की तुलना मे लम्बा जीवन जीती है। एक शोध के अनुसार यह उनके जीन पर निर्भर करता है। उसके अलावा महिलाओं के दिल सम्बन्धी बीमारियां कम होती है, इसलिए भी वह लम्बा जीवन जीती है।  

सर और गले का कैंसर 

पुरुषों मे सर और गले का कैंसर होने का खतरा ज्यादा रहता है। इसके अलावा अन्य कैंसर जैसे एसोफैगल कैंसर भी महिलाओं की तुलना मे पुरुषों मे होने की सम्भावना होती है। विशेषज्ञ का कहना है कि महिलाओं पुरुषों की तुलना मे तंबाकू और शराब का सेवन कम करती है इसलिए भी महिला होना ज्यादा बेहतर है। 

स्किन कैंसर 

मेलेनोमा, एक तरह का राएर कैंसर है जो पुरुषों की तुलना मे महिलाओ को ज्यादा उम्र पर ही होता है। महिलाओं को यह कैंसर 45 साल से ज्यादा की उम्र  पर होता है, वही पुरुषों मे यह कैंसर कम उम्र मे भी देखने को मिल जाता है।  

दर्द सहने की क्षमता 

महिलाओं मे दर्द सहने की क्षमता पुरुषों की तुलना मे कही ज्यादा होती है। इसका सबसे बड़ा उदहारण उनका 9 महीने तक गर्भ मे बच्चे को पालन होता  है। गर्भ मे पलने के अलावा डिलीवरी मे सामान्य दर्द की तुलना से 100 गुना होता है।

सूंघने की क्षमता 

महिलाओं मे सूंघने की क्षमता ज्यादा अच्छी होती है। जब स्मेल सेंस के कमजोर होने के कारण एलपीजी, प्लास्टिक वायरिंग के जलने या भोजन के की स्मेल को महसूस करने से भी वंचित रह जाता है। ऐसे मे परेशानिया बढ़ने के साथ ही जान को भी खतरा हो सकता है। 

अच्छा कोलेस्ट्रॉल 

पुरुषों की तुलना मे महिलाओं मे HDL यानि गुड कोलेस्ट्रॉल ज्यादा होता है। इससे उनकी धमियो पर प्लाक जमा होने से बचाती है। इसके अलावा  महिलाओं मे यानि ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज और स्ट्रोक का खतरा कम रहता है।  

याददाश्त 

मेमोरी के मामलो मे भी महिलाएं पुरुषों से आगे रहती है। कहा भी जाता है कि महिलाओं बर्थ डेट आदि याद रखने मे ज्यादा अच्छी होती है। एक शोध के अनुसार हार्ट सम्बन्धी बीमारियों के चलते पुरुषों मे याददास्त की समस्या ज्यादा होने लगी है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -