अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : आखिर क्यों 21 जून को ही मनाया जाता है योग दिवस ?

प्रतिवर्ष की तरह इस बार भी अंतर्राष्ट्र्रीय योग दिवस काफी शानदार रुप में मनाए जाने की तैयारियां चल रही हैं. भारत की देन योग आज विश्व भर में मशहूर हैं. हर बार की तरह इस बार भी कल यानी 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा. अंतर्राष्ट्र्रीय योग दिवस मनाने का पूरा श्रेय हमारे देश भारत को दिया जाता हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ठीक तीन साल पहले इसकी शुरुआत की थी. पहली बार साल 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था. 

आखिर 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस ? 

आज से करीब साढ़े तीन साल पहले 27 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में इसका जिक्र किया था. इससे पहले 11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों द्वारा 21 जून को 'अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस' को मनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली थी. जहां पीएम मोदी के इस प्रस्ताव को तीन माह की अवधि में पूर्ण बहुमत से पारित किया गया.

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके बाद अगले वर्ष यानी साल 2015 में 21 जून को करीब 36000 लोगों के साथ मिलकर राजधानी दिल्ली में 35 मिनट तक 21 योग आसन का प्रदर्शन किया. इस समारोह का आयोजन राजपथ पर हुआ था. इस समारोह ने गिनीज रिकॉर्ड्स भी बनाए. 

International Yoga Day: 'पीएम मोदी' योगा को मानते है ज़ीरो बजट वाला दुनिया का पहला हेल्थ इंश्योरेंस

International Yoga Day : क्या आप जानते है सही मायने में योग क्या है

International Yoga Day : योग करते वक्त कभी न करें ये 5 गलतियां

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -