खुशबूदार शैम्पू और हेयर रेमूविंग क्रीम है गुप्तांगों के लिए हानिकारक

खुशबूदार शैम्पू और हेयर रेमूविंग क्रीम है गुप्तांगों के लिए हानिकारक

यह बड़ी ही नॉर्मल बात है और सभी इसका एक्सपीरियंस कर चुके हैं कि मनुष्यों के प्राइवेट पार्ट्स का रंग ज़रा गहरा होता है. शरीर के बाकी अंगों की तुलना में मनुष्यों के गुप्तांगों का रंग थोड़ा गहरा होता है यानी काला होता है. इनमें केवल प्राइवेट पार्ट्स ही शामिल नहीं है. प्राइवेट पार्ट्स के आसपास के हिस्से जैसे इनर थाई और बट्स का रंग भी गहरे शेड का होता है. प्राइवेट पार्ट्स मनुष्य के बेहद ही निजी अंग होते हैं, जिसे चाहे दिन हो या रात, अंडरआर्म हो, योनि या फिर आंतरिक जांघ इसे ढँक कर ही रखना होता है.

कई लोग अपने गुप्तांगों के काले होने के कारण परेशान रहते हैं. देखा जाता है कि नहाते समय लोग प्राइवेट पार्ट्स पर बहुत खुशबूदार या हार्श शैम्पू का इस्तेमाल करते हैं. यदि महिलाओं को अपने प्राइवेट पार्ट्स को काले होने से बचाना है तो वह योनी के लिए pH बैलेंस रखने वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर सकती हैं. वही यदि पुरुषों की बात की जाए तो वह अपने प्राइवेट पार्ट्स पर बहुत ही माइल्ड शैम्पू या फेसवॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं.

बताया जाता है कि प्राइवेट पार्ट्स के काले होने की एक वजह हेयर रिमोविंग क्रीम भी रहती है. इसीलिए कहा गया है कि प्राइवेट पार्ट्स के अनचाहे बालों को हटाने के लिए कभी भी हेयर रिमोविंग क्रीम का इस्तेमाल न करें क्योंकि यह क्रीम समय के साथ-साथ स्किन को काला कर देती है. नहाने के बाद प्राइवेट पार्ट्स को अच्छी तरह पोंछ ले ताकि ज़रा भी नमी बाकी न रहे, उसके बाद ही अपने अंडरगारमेंट्स पहनें. प्राइवेट पार्ट्स में नमी भी स्किन के काले होने का कारण बनती है.

आखिर क्यों सेक्स के तुरंत बाद पुरूषों को आ जाती है नींद?

सेक्स में चरम सुख पर पहुंचते ही महिलाएं करती है ऐसी प्रतिक्रिया

अंडरगारमेंट्स में नमी और रगड़ से इस तरह प्रभावित होता है मनुष्य का शरीर

?