बकरीद पर जैन समुदाय ने क्यों खरीदे 127 बकरे ?

बकरीद पर जैन समुदाय ने क्यों खरीदे 127 बकरे ?
Share:

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में जैन समुदाय ने करुणा के एक उल्लेखनीय कार्य में, 17 जून, 2024 को बकरीद के अवसर पर बकरियों के वध को रोकने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए। सामूहिक प्रयास और दान के माध्यम से, समुदाय ने ₹11 लाख जुटाए, जिससे वे बलि के लिए 100 से अधिक बकरियाँ खरीद पाए।

इस पहल का नेतृत्व धर्मपुरा जैन मंदिर के युवा संगठन ने किया, जिन्होंने व्हाट्सएप समूहों के माध्यम से सहयोग का आह्वान किया। समुदाय ने उदारता से प्रतिक्रिया दी, और जल्दी से आवश्यक धन जुटाया। पैसे से, उन्होंने 127 बकरे ख़रीदे, जिन्हें बकरीद की बलि के लिए बेचा जा रहा था। बचाए गए पशुओं की अब अच्छी तरह से देखभाल की जा रही है, उन्हें नियमित रूप से भोजन, पानी और चिकित्सा जाँच मिल रही है। उनकी निरंतर सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, उन्हें सहारनपुर में एक पशु आश्रय में भेजने की व्यवस्था की गई है, जहाँ उन्हें भविष्य में बिक्री या वध से स्थायी रूप से संरक्षित किया जाएगा।

इस पहल को न केवल जैन समुदाय से बल्कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिन्दू समुदायों के व्यक्तियों से भी दान मिला। जैन मंदिर से जुड़े एक सामाजिक कार्यकर्ता ने इस बात पर प्रकाश डाला कि उनके कार्य अहिंसा के उनके धार्मिक सिद्धांत से प्रेरित थे। इस प्रयास की सफलता से उत्साहित होकर युवाओं ने भविष्य में और अधिक जानवरों को बचाने के लिए इस पहल का विस्तार करने के इरादे व्यक्त किए हैं। उनका उद्देश्य अपने मिशन में वैश्विक स्तर पर अधिक लोगों को शामिल करना है, जिससे जानवरों की बड़े पैमाने पर सुरक्षा की संभावना पर जोर दिया जा सके। बकरीद के संदर्भ में यह कार्रवाई विशेष रूप से महत्वपूर्ण है, एक ऐसा समय जब बहुत सारे बकरे बेचे जाते हैं और उनकी बलि दी जाती है, जिससे उनके बाजार मूल्य में वृद्धि होती है। जैन समुदाय का प्रयास इस परंपरा के प्रति एक दयालु प्रतिक्रिया को दर्शाता है, जिसका उद्देश्य अहिंसा और पशु कल्याण को बढ़ावा देना है।

मणिपुर में बड़े ऑपरेशन की तैयारी, CRPF की 10 अतिरिक्त कंपनियां तैनात, पहुंचे 110 ट्रक

टीम इंडिया का कोच बनने के लिए आज इंटरव्यू देंगे गौतम गंभीर, ले सकते हैं द्रविड़ की जगह

MP में अब सख्‍ती से लागू होगा बायोमेट्रिक फेस अटेंडेंस सिस्‍टम

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -